मिट्टी खिसकने से एक तरफ झुका ‘लखनऊ आगरा एक्सप्रेस-वे’, हो सकता है बड़ा हादसा

Ulta Chasma Uc  :   उत्तर प्रदेश के लखनऊ आगरा एक्सप्रेस-वे से एक बड़ी और चौकाने वाली खबर सामने आ रही है. मिटटी के ऊपर बना एक्सप्रेस-वे अचानक मिट्टी खिसकने से एक तरफ झुक गया है. जिससे एक्सप्रेसवे पर कई मोटी-मोटी दरारें भी आ गई हैं. अगर आप आगरा से लखनऊ की तरफ आ रहे हैं तो सावधान हो जाएं करीब 9 किलोमीटर की दूरी पर एक्सप्रेस-वे का ये हाल हुआ है. किसी भी वक्त कोई बड़ा हादसा हो सकता है.

Lucknow Agra Express-Way dramatic accident
आगरा लखनऊ एक्सप्रेस-वे की धसीं सड़कें

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे 302 किलोमीटर लम्बा है, ये भारत का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे है. जिसनें आगरा और लखनऊ के बीच की दूरी को काफी कम कर दिया है. इस एक्सप्रेसवे के निर्माण में 13 हज़ार करोड़ रुपए खर्च किये गए हैं. 21 नवंबर 2016 को उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री, अखिलेश यादव ने इसका उद्घाटन किया था.

Lucknow Agra Express-Way dramatic accident
आगरा लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर पड़ीं दरारें

आगरा लखनऊ एक्सप्रेस-वे शिकोहाबाद, फिरोजाबाद, मैनपुरी, इटावा, औरैया, कानपुर, उन्नाव और हरदोई नगरों से जुड़ा हुआ है. इस 302 किलोमीटर लम्बे पूरे मार्ग पर 60 मीटर से लंबे 13 पुल तथा इससे छोटे 54 पुल बनाये गए हैं. इसके साथ ही 4 रेलवे ओवर ब्रिज भी बनाए गये हैं.

-----

मिटटी धंसने का मामला पहले भी कई बार सामने आ चुका है. बारिश में भी आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पूरी तरह फेल हो गया था. बारिश में मिट्टी अपनी जगह से खिसकी थी जिससे लंबी दरारों के साथ ही काफी दूर तक एक्सप्रेसवे का एक हिस्सा धंस गया था.

-----
Lucknow Agra Express-Way dramatic accident
खाई में गिरी कार

बारिश के समय ही एक हादसा भी हुआ था जिसमें सर्विस लेन धंसने से एक कार खाई में गिरकर फंस गई थी. ये देखकर सभी की आंखे खुली रह गईं थी. कार में चार लोग सवार थे. समय रहते सबको सही समय पर बाहर निकाल लिया गया था.

अरबों रूपए खर्च करने के बाद भी आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का ये हाल है. जो बड़ी दुर्घटनाओं का कारण बना हुआ है. मालूम हो की अखिलेश यादव अपने कार्यकाल में इस आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर लड़ाकू विमान भी उतार चुके हैं.

Web Title :  Lucknow Agra Express-Way dramatic accident

HINDI NEWS से जुड़े अपडेट और व्यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ FACEBOOK और TWITTER हैंडल के अलावा GOOGLE+ पर जुड़ें.