लखनऊ के इन 24 लैब में होगा कोविड-19 टेस्ट, प्रशासन ने तय किए रेट, देखें लिस्ट-

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन ने 24 प्राइवेट लैब को कोविड टेस्ट की जांच करने के निर्देश जारी किए. जिन लोगों को जाँच कराने में दिक्कतें होती थी और समय से नहीं हो पाता था उनके लिए अब राहत है.

24 अस्पतालों और निजी लैब में होगी कोविड जांच

प्रभारी जिलाधिकारी ने देर रात आदेश जारी कर प्रमुख 24 अस्पतालों और निजी लैब को कोविड जांच करने के निर्देश दिए हैं. डीएम रोशन जैकब ने निर्देश दिया है कि इन सभी संस्थानों में लोग जाकर अब जांच करा सकते हैं. जांच के लिए 700 रुपए से अधिक नहीं लिए जाएंगे. अगर घर पर जांच करानी हो तो इसके लिए 900 रुपए निर्धारित हैं.

-----
Lucknow 24 Labs Will Be Kovid 19 Tested At Fixed Rate

ब्लड और अन्य जांच के लिए अलग से फीस

-----

इसके अलावा मरीज के ब्लड और अन्य जांच के लिए अलग से फीस देनी होंगी. लख़नऊ शहर के अलग-अलग क्षेत्र में प्राइवेट लैब सूची में शामिल है. सीएमओ लख़नऊ के अनुसार ऐसा फ़ैसला इसलिए किया गया क्योंकि लख़नऊ में बढ़ते कोरोना केस ट्रैकिंग में आसानी होंगी. इसी के साथ ही प्रभारी जिलाधिकारी रोशन जैकब ने 60 सरकारी हॉस्पिटल की सूची जारी की हैं. निःशुल्क इन हॉस्पिटल में कोविड पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करके अपने घर के पास के हॉस्पिटल में जा सकते हैं.

कर्फ्यू में कोविड टीकाकरण का कार्य जारी रहेगा

उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में कोविड जांच के लिए आरटीपीसीआर और एंटीजन टेस्ट की क्षमता को दोगुना करने के निर्देश दिए हैं. प्रदेश के सभी जिलों में कोविड बेड्स बढ़ाए जाने, आक्सीजन की उपलब्धता और आपूर्ति, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और शत-प्रतिशत टेस्टिंग सुनिश्चित करने को कहा है. उन्होंने कहा कि कोरोना कर्फ्यू की अवधि में कोविड टीकाकरण का कार्य जारी रहेगा. लोगों को घर से टीकाकरण केन्द्र जाने और वापस आने की छूट होगी.

कोविड संक्रमित का अन्तिम संस्कार नि:शुल्क

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि दुर्भाग्यवश कोविड संक्रमित की मृत्यु होने पर अन्तिम संस्कार प्रशासन की देख-रेख में नि:शुल्क सुनिश्चित किया जाए. इस सम्बन्ध में संक्रमित व्यक्ति के परिजनों को कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए. 1 मई से 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों का टीकाकरण किया जाना है. प्रदेश सरकार ने नि:शुल्क टीकाकरण की कार्ययोजना तैयार करने के लिए वित मंत्री सुरेश कुमार खन्ना की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति गठन कर दिया है.

-----