PM मोदी ने पाकिस्तान से छीना ‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ का दर्जा, योगी शहीदों को देंगे 25 लाख

पुलवामा में हुए सबसे बड़े आतंकी हमले के बाद नरेंद्र मोदी सरकार ने पाकिस्तान के खिलाफ कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. मोदी सरकार ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन (Most Favoured Nation) का दर्जा वापस ले लिया है.

largest terrorist attack in jammu and kashmir pulvama pm modi and cm yogi
largest terrorist attack in jammu and kashmir pulvama pm modi and cm yogi

इसके बाद अब मोदी सरकार रणनीतिक तौर पर भी अंतरराष्ट्रीय समुदाय के जरिए पाकिस्तान पर कूटनीतिक दबाव बनाएगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये फैसले आज सुबह हुई कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्यॉरिटी (सीसीएस) की बैठक में लिए हैं. बैठक में हमले में शहीद जवानों के लिए दो मिनट का मौन भी रखा गया. बैठक में प्रधानमंत्री के अलावा गृह मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, वित्त मंत्री अरुण जेटली के अलावा तीनों सेनाओं के प्रमुख और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल शामिल हुए.

बैठक ख़त्म होने के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को दिया गया ‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ का दर्जा वापस ले लिया गया है. इसके अलावा पाकिस्तान से व्यापार को लेकर भी वाणिज्य मंत्रालय फैसले लेगा. गृह मंत्री राजनाथ सिंह आज सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के लिए कश्मीर के दौरे पर जाएंगे.

बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि सुरक्षाबलों के साथ पूरा देश खड़ा है. उन्हें पूरी स्वतंत्रता दे दी गई है. आतंक के लिए हमारी लड़ाई और तेज होगी. पाकिस्तान तबाही के रास्ते पर चल रहा है. आतंकवादी उनके मददगार हैं जिसकी उसे कड़ी कीमत चुकानी होगी. मैं देश को विश्वास दिलाता हूं, हमले के पीछे जो ताकतें हैं, इस हमले के जो भी गुनहगार हैं, उन्हें सजा जरूर मिलेगी.

इधर पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों में उत्तर प्रदेश के 12 जवान शामिल हैं. इन जवानों के परिवारों को प्रदेश सरकार की ओर से 25-25 लाख रुपये अनुग्रह राशि देने का ऐलान किया गया है. और परिवार के एक व्यक्ति को राज्य सरकार नौकरी भी देगा. सरकार के ऐलान में ये भी कहा गया कि जवानों के पैतृक गांव में संपर्क मार्ग का नामकरण जवानों के नाम पर किया जाएगा. शहीद जवानों का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा.

आतंकी हमले में अबतक सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हो चुके हैं. और 20 से ज्यादा जवान घायल बताये जा रहे हैं. ये आतंकी हमला जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर गुरुवार दोपहर बाद 3:15 बजे हुआ है. आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने इस बड़े हमले की जिम्मेदारी ली है. और साथ ही उसने भारतीय जवानों के काफिले पर फिदायीन हमला करने वाले आतंकी आदिल ऊफ वकास का वीडिया जारी किया है.

सीआरपीएफ का 78 वाहनों का काफिला 2500 जवानों को लेकर जम्मू से श्रीनगर आ रहा था. इनमें ज्यादातर अपनी छुट्टी बिताकर ड्यूटी ज्वाइन करने जा रहे थे. मगर किसी को क्या पता था कि आज वे देश के लिए शहीद हो जायेंगे. जैसे ही ये काफिला दक्षिण कश्मीर में जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर गोरीपोरा (अवंतीपोर) के पास पहुंचा तो अचानक एक कार तेजी से काफिले में घुसी.

इस कार में आतंकी आदिल हुसैन बैठा था. उसने आत्मघाती कार ले जाकर सीआरपीएफ जवानों की एक बस के साथ टक्कर मार दी. इसके बाद वहां जोरदार धमाका हुआ और कार के साथ सीआरपीएफ जवानों से भरी एक बस के परखच्चे उड़ गये. पूरी सड़क पर लाशों का ढेर लग गया. साथ ही सड़क पर लोगों के रोने चिल्लाने की आवाजें आने लगी.

1,027 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *