महाशिवरात्रि: पूरे देश में गूंजा हर-हर महादेव, कुंभ में आज आखिरी स्नान, उमड़े श्रद्धालु, देखें-

आज पूरे देश में महाशिवरात्रि का पर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है. भगवान शिव को जल, बेलपत्र, फल आदि चढ़ाने और उनके दर्शनों के लिए सुबह से ही मंदिरों के बाहर भक्तों का तांता लगा हुआ है. वहीं कुम्भ में भी भक्तों का जनसैलाब उमड़ पड़ा है.

kumbh mela 2019 sangam last holy dip and prayers to lord shiva on the occasion of maha shivratri
kumbh mela 2019 sangam last holy dip and prayers to lord shiva on the occasion of maha shivratri

दरअसल आज कुंभ मेला 2019 का आखिरी स्नान है. और आज सभी श्रद्धालु मन में संगम की पवित्रता का भाव लेकर त्रिवेणी में डुबकी लगाकर जीवन धन्य बनाने के लिए उमड़ पड़े हैं. इसके साथ ही 49 दिनों तक चलने वाला मेला संपन्न हो जाएगा. रात 12 बजते ही श्रद्धालुओं ने संगम में डुबकी लगाकर सुख समृद्धि की कामना की है. आज कुंभ मेले में करीब 1 करोड़ श्रद्धालुओं के गंगा और संगम में स्नान करने की संभावना है.

15 जनवरी से शुरू हुए कुंभ में अब तक 22 करोड़ लोग स्नान कर चुके हैं. पुलवामा हमला और एयर स्ट्राइक के बाद आज कुंभ मेले के आखिरी दिन और महाशिवरात्रि के स्नान को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. स्नान के लिए 41 घाटों पर व्यवस्था की गई है. डीआईजी केपी सिंह ने बताया कि मेले के दौरान खोया-पाया केंद्र में कुल 29 हजार 337 लोग गुमशुदा पंजीकृत हुए जिसमें 15 हजार 730 महिलाएं थीं. 762 लोगों को छोड़कर बाकी लोगों को उनके परिजनों से मिला दिया गया. इन 762 लोगों के परिजनों से अभी तक संपर्क नहीं हो सका है.

वैसे तो शिवरात्री हर महीने आती है लेकिन महाशिवरात्री साल में केवल एक बार आती है. इस दिन का महत्व ज्यादा इसलिए भी है क्योंकि कहा जाता है कि आज के ही दिन भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था. देशभर के शिवालय ‘बम-बम भोले’ और ‘हर हर महादेव’ के नारों से गूंज रहे हैं. उधर देवघर में बैद्यनाथ बाबा की पूजा करने के लिए भक्त उमड़ पड़े हैं. अनुमान लगाया जा रहा है कि करीब एक लाख भक्त देर शाम तक बाबा बैद्यनाथ की पूजा करेंगे. कतारबद्ध पूजा को ले पुख्ता इंतजाम है.