कुंभ में स्नान करने जा रहे हैं तो ये ध्यान से पढ़िए, तैयारी से जाइये

कुंभ 2019 प्रयाग की माटी पर चल रहा है. मकरसंक्रांति पर लोगों की भीड़ कुंभ में संगम पर स्नान के लिए उमड़ी. लाखों लोग सिर पर आस्था की गठरी रखे संगम के घाट की तरफ खिंचे चले आ रहे हैं. कुंभ में लोगों के लिए तैयारियां की गई हैं, लेकिन आस्था के अपार सैलाब के साथ कुंभ में आ रही भीड़ के आगे कोई भी व्यवस्था छोटी है. कुंभ स्नान करने आ रहे हैं इन बातों का खास ध्यान रखें.

कुंभ 2019
कुंभ 2019

कुंभ में स्नान करने आ रहे हैं तो बहुत ज्यादा जैकेट स्वेटर लादने की जरूरत नहीं है अगर आप राते के समय आ रहे हैं तो ठीक है वर्ना अगर दिन में डुबकी लगाना चाहते हैं प्रयाग की माटी पर इस बार ज्यादा जाड़ा नहीं हो रहा है. घाट के किनारे गोवा की तर्ज पर महिलाओं के  लिए चेंजिंग रूम बनाए गए हैं जहां पर महिलाएं स्नान के बाद महिलाएं कपड़े बदल सकती हैं. घाट पर अगर आपको लघुशंका प्रतीत होती है और आप शौचालय खोजेंगे तो शौचालय मिल तो जाएंगे लेकिन शौचालय देवों की भूमि प्रयाग में आपकों जीते जी नर्क के दर्शन हो जाएंगे.

-----

 

कुंभ 2019
कुंभ 2019

कुंभ में स्नान करने आए हैं तो किसी पंडे के चक्कर में ना पडे़ं, अपनी पूजा अपने आप करेंगे जेबकतरों  और ठग्गू बाबाओं से सावधान रहें. ध्यान रखिए आप और आपके भगवान के बीच कोई और नहीं हो सकता.

 

कुंभ 2019
कुंभ 2019

कुंभ में भीड़ इतनी ज्यादा हो चुकी है कि हालत ये हो गई है कि अपने कपड़े उतारकर नहाने वाले जब तक लौटकर आते हैं तब तक उनकी चड्डी बनियान कोई और पहन चुका होता है.  या फिर उनके जूते चप्पल अपने अपने चलकर कहीं और पहुंच जाते हैं.

 

कुंभ 2019
कुंभ 2019

कुंभ आ रहे हैं तो आइये लेकिन पैदल खूब चलना पड़ेगा. अपने वाहन से आ रहे हैं. तो भीतर तक नहीं घुस पाएंगे. दसियों किमी पैदल चलना पड़ेगा. हर 4 कदम पर पुलिसवाले सुरक्षा के नाम पर आपकी गाड़ी को इधर से उधर घुमाने के लिए तैयार हैं. मेले के भीतर पैदल आइये तो ठीक है गाड़ी के साथ आने वाले हैं तो अपने आप को किसी नेता का किसी धन्नासेठ का वारिस सिद्ध करेंगे तभी अपनी गाड़ी भीतर तक ले जा सकते हैं.

कुंभ 2019
कुंभ 2019

अगर आप गरीब हैं तो सार्वजनिक टेंटों में रात बिता सकते हैं लेकिन कम्बल अपना ही लेकर आइये तो ठीक है सरकारी दावों के चक्कर में रहे तो रात में ठिठुर जाएंगे. 100 रूपए और 200 रूपए में भी टेंट मिल जाएंगे जिनमें कम्बल मिल जाएगा. और 35 हजार में भी एक दिन के लिए टेंट मिल जाएंगे जहां आप प्रयाग की माटी पर ऐश भी काट सकते हैं. ऐश मतलब वो सब कुछ मिलेगा जो 3 स्टार होटल में मिलता है.  मीडिया की बातों में आकर 5 स्टार की उम्मीद पालें है तो एक बार फिर गच्चा खाएंगे. बाकी प्रयाग जाइये. गंगा में नहाइये पाप किए हैं तो मिटाइये.