लखनऊ: अखिलेश यादव नजरबंद, सपा कार्यालय तक पुलिस का पहरा, आज करने वाले थे किसान रैली

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) ने यूपी में किसानों के समर्थन में एक बड़ी यात्रा निकालने का ऐलान किया था. और आज 11 बजे कन्नौज से समाजवादी पार्टी किसान यात्रा(Kisan Yatra) को रवाना करने का कार्यक्रम था, लेकिन उनको नजरबंद कर दिया गया है.

kisan yatra akhilesh yadav home arrest in lucknow
kisan yatra akhilesh yadav home arrest in lucknow

देश में किसान आंदोलन को देखते हुए अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) को लखनऊ में विक्रमादित्य मार्ग पर उनके आवास में ही नजरबंद किया गया है. सरकार कोरोना संक्रमण का हवाला देकर उनको घर से बाहर नही निकलने दे रही है. अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) के आवास के साथ ही विक्रमादित्य मार्ग पर सपा कार्यालय को भी बैरिकेडिंग लगाकर सील कर दिया गया है.

सपा कार्यकर्ता सुबह करीब 11 बजे अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) के घर की तरफ बढ़े तो पुलिसकर्मियों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. लखनऊ में विक्रमादित्य मार्ग पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है और किसी भी प्रदर्शन से निपटने की पूरी तैयारी की गई है. पुलिस ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ तीन विधान परिषद सदस्यों उदयवीर सिंह, राजपाल कश्यप और आशु मलिक को हिरासत में ले लिया है.

दरअसल सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव कन्नौज में किसान मार्च करने वाले थे लेकिन प्रशासन ने अनुमति नहीं दी है. जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र ने कहा कि अभी कोरोना वायरस खत्म नहीं हुआ है लिहाजा भीड़ जुटाने की अनुमति किसी भी स्थिति में नहीं दी जा सकती है. सपा मुखिया को पत्र भेजकर इस पर अवगत करा दिया गया है. प्रशासन का कहना है कि अगर फिर भी भीड़ जुटती है तो कार्रवाई की जाएगी. कन्नौज में सपाइयों को रोकने के लिए प्रशासन तैयार है.

गौतम पल्ली थाना की फोर्स के साथ ही लखनऊ के अन्य थाना क्षेत्र की फोर्स को अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) के आवास के पास में तैनात किया गया है. रविवार को अखिलेश ने प्रदेश के सभी 75 जिलों में किसान यात्रा निकालने का ऐलान किया था. उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश के हर जिले में ‘किसानों की आय बढ़ाओ’ और ‘खेती-किसानी बचाओ’ के नारों के साथ किसान यात्रा निकालने वाली थी.

नजरबंद किये गए अखिलेश यादव ने ट्वीट पर सरकार को घेरते हुए लिखा कि जहां तक जाती नज़र वहां तक लोग तेरे ख़िलाफ़ हैं, ऐ ज़ुल्मी हाकिम तू किस-किस को नज़रबंद करेगा!

छह घंटा नजरबंद रहने के बाद अखिलेश यादव ने अपने आवास के पास विक्रमादित्य मार्ग पर धरना दे दिया है. उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी ने कोरोना वायरस को एक बहाना बनाया है. बीजेपी के लिए किसी भी कार्यक्रम को आयोजित करने के लिए कोरोना वायरस कहीं पर भी नहीं है, लेकिन विपक्ष अगर कहीं पर भी कुछ करता है तो सरकार कोरोना का बहाना बना लेती है. अब तो ये सरकार भरपूर तानाशाही कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *