हरियाणा में तेज रफ्तार से ट्रक ने आंदोलनकारी.महिला किसानों (Kisaan) को कुचला. 3 की मौत

किसान (Kisaan)आंदोलन में हिस्सा लेकर घर जा रही थी न, महिलाओं पर ट्रक चढ़ाने की दिल – दहलाने वाली घटना सामने आयी है मामला हरियाणा के बहादुरगढ़ का है,गुरुवार 28 अक्टूबर की सुबह करीब 6 बजे एक ट्रक ने महिला किसानो को कुचल दिया , हादसे में 3 बुजुर्ग महिलाओं की मौत हो गयी ,जबकि तीन की हालत गभींर है ,

किसान आंदोलन से घर लौट रही थी

ये घटना बहादुरगढ़ के झज्जर रोड फ्लाई ओवर के नीचे हुआ था ,ये महिलाएं यहां किसान (Kisaan) आंदोलन में हिस्सा लेने आयी थी डिवाइडर पर बैठी हुई थी उसी समय एचआर 55 N-2287 नंबर के ट्रक ने उन्हें बुरी तरीके से कुचल दिया ,2 महिलायो की मौत हो जबकि एक महिला ने हॉस्पिटल में दम तोड़ दिया मृतक महिलाओं के नाम है ,छिंदर कौर (60 साल ) अमरजीत कौर (58 साल ) और गुरमेल कौर (60 साल) ये महिलाएं पंजाब के मानस जिले के रहने वाली थी
बता दे आपको की किसान रोटेशन के तहत आंदोलन में शामिल होते है

ये महिला आंदोलनकारी अपनी बारी के तहत आंदोलन में शामिल होने के बाद वापस घर जा रही थी , इन सभी को ऑटो में बैठकर रेलवे स्टेशन जाना उससे पहले ही ये हादसा हो गया , पुलिस मामले की जाँच कर रही है , ट्रक में डस्ट भरा हुआ था हादसे के बाद ट्रक चालक फरार हो गया

दिल्ली में लाठीचार्ज को बताया गया बीजेपी की साजिश

इससे पहले दिल्ली में किसानो (Kisaan) पर बुधवार 27 अक्टूबर की शाम को लाठीचार्ज की खबर आयी , हालंकि इसे लेकर अलग -अलग दावे सामने आ रहे है। खबरे आई कि सिन्दु बॉडर्र की तरफ जा रहे किसानो पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया है ,जबकि किसान यूनियन का कहना है , कि जिन पर लाठीचार्ज हुआ , वो किसान नहीं है ,साथ ही ये भी कहा कि उनका किसान आदोलन से कोई लेनादेना नहीं है ,किसान आदोलन से जुड़े नेताओं ने इसे बीजेपी की साजिश बताया है

किसान नेता दर्शनपाल ने ये बयान जारी करके कहा कि हिन्द किसान (Kisaan) मजदुर यूनियन के कुछ लोग उत्तराखंड और यूपी से कुछ गाड़ियों में सवार होकर सिन्दु बॉडर्र आ रहे थे , उन्हें पुलिस ने रस्ते में रोका वो लखबीर सिंह के परिवार के साथ सिन्दु बॉडर्र पर आकर हवन करना चाहते थे , जो संगठन इस काम को करना चाहता है , वो बीजेपी आरएसएस से जुड़ा हुआ है

असल में हिन्द मजदुर किसान (Kisaan) समिति नाम के संगठन के सैकड़ो लोग ,सिन्दु बॉडर्र पर उस जगह जाना चाहते थे जहां लखविंदर सिंह की हत्या कर दी गयी थी आपको बता दे कि कुछ दिन पहले निहंगों ने बेरहमी से लखबीर सिंह की हत्या कर दी थी उसके हाथ -पैर भी काट दिए थे ,शव को बेरिकेड पर लटका दिया था जब मजदूरो ने , ,सिन्दु बॉडर्र पर जाने की कोशिश की पर जाने नहीं दिया गया, प्रदर्शनकारियों ने जब आगे बढ़ने की जिद की तो पुलिस ने कथित तौर पर बल प्रयोग करके रोक दिया ,दावा किया जा रहा है ,कि करीब 12 -15 लोगो को चोटे आयी है पुलिस ने कुछ लोगो हिरासत में लिया है ,फिलहाल सिन्दु बॉडर्र पर माहौल काफी तनावपूर्ण है .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *