चाचा शिवपाल के लिए बीजेपी का बड़ा ऐलान, गठबंधन का रास्ता हुआ आसान

सभी पार्टियां 2019 में जीत की रणनीति बनाने में लगी हैं। भाजपा को हराने के लिए पूरा विपक्ष आपस में गठबंधन करने के प्रयास में लगे हैं। वहीं समाजवादी पार्टी से अलग हो चुके चाचा शिवपाल यादव पर बीजेपी अपनी नज़र बनाये हुए है। बातों ही बातों में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने इस बात का ऐलान भी कर दिया है।

शिवपाल और रघुराज को न्योता

चाचा शिवपाल के लिए बीजेपी

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में संगठन और अधिकारियों की बैठक लेने के लिए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य दो दिन के प्रवास पर शहर में हैं। विपक्षियों पर निशाना साधते हुए बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में केशव ने कहा कि हम तो चाहते हैं कि विपक्षियों का महागठबंधन हो तभी तो हम प्रदेश में 73 सीट जीतेंगे। शिवपाल से गठबंधन की संभावना के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि शिवपाल और रघुराज चाहें तो अपने दलों का विलय भाजपा में कर सकते हैं। लेकिन साथ ही साथ केशव प्रसाद मौर्य ने ये भी साफ़ कर दिया की सीटों के बंटवारे की भाजपा में कोई गुंजाइश नहीं है।

एससी/एसटी एक्ट और आयुष्मान भारत पर बोले केशव

एससी/एसटी एक्ट को लेकर बढ़ रही नाराजगी के सवाल पर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोई मुकदमा जबरदस्ती या झूठा दर्ज नहीं होने दिया जाएगा। सरकार इस तरह निगरानी करेगी कि कानून का दुरुपयोग कोई न कर सके। औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना का नाम आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों में शामिल होने के सवाल पर केशव ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि जनगणना कांग्रेस के समय हुई थी, तभी गड़बडिय़ां हुई होंगी। योजना का लाभ वास्तविक पात्रों को ही मिले, इसके लिए उच्च स्तर पर जांच कराई जा रही है।

बड़ी विजय हासिल करना हमारा लक्ष्य

इससे पहले उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सोमवार को इलाबाद में कहा था कि विश्व के सबसे शक्तिशाली नेता और भारत के प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी हमारे पास चेहरा हैं। सपा, बसपा, कांग्रेस गठबंधन कर ले तो भी भाजपा का विजयरथ किसी भी कीमत पर नहीं रोक पाएंगी। 2019 के लोकसभा का बिगुल आज से बज गया है, हमारा लक्ष्य 2014 से बड़ी विजय 2019 में हासिल करने का है।