इलाहाबाद का नाम बदलने के बाद, अब फैजाबाद बनेगा ‘नरेन्द्र मोदी पुर’ ?

भारत के उत्तर प्रदेश में स्थित इलाहाबाद प्राचीन शहरों में गिना जाता है. ग्रंथों के हिसाब से इलाहाबाद को ‘प्रयाग’, ‘प्रयागराज’ या ‘तीर्थराज’ के नाम से भी जाना जाता है. इसका प्राचीन नाम भी प्रयाग था. इसके साथ ही इलाहाबाद सबसे पवित्र तीर्थ स्थल भी माना जाता है. इलाहाबाद में प्रत्येक छ: वर्षों में कुंभ और प्रत्येक बारह वर्षों में महाकुंभ होता है.

योगी आदित्यनाथ ने किया ऐलान

sp akhilesh yadav attack on cm yogi aditynath
फोटो सौजन्य से:- @myogiaditynath

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस बैठक में हर तबके खासकर अखाड़ा परिषद, प्रबुद्ध वर्ग से एक प्रस्ताव आया है कि इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किया जाए. जिसपर योगी आदित्यनाथ ने संतों की बात मानते हुए कुंभ नगरी इलाहाबाद का नाम फिरसे ‘प्रयागराज’ करने का ऐलान कर दिया है. ये सुनकर संतों में काफी उत्साह देखने को मिला. योगी ने कहा, जब हम प्रयाग की बात करते हैं तो जहां दो नदियों का संगम होता है, वह अपने आप में एक प्रयाग हो जाता है. स्वभाविक तौर पर यह सभी प्रयागों का राजा है, इसलिए यह प्रयागराज कहलाता है.

सपा सांसद नागेन्द्र ने विरोध जताया

sp akhilesh yadav attack on cm yogi aditynath
फोटो सौजन्य से:- Punjab Kesari

इधर इलाहाबाद का नाम प्रयागराज करते ही यूपी की सियासत गरमा गई. विपक्ष योगी सरकार के इस फैसले को लेकर कड़ी आलोचना करने लगी है. योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर इलाहाबाद आए तो कुछ लोगों ने उनको रास्ते में काले झंडे दिखाए. जिसके बाद उन युवकों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. फूलपुर लोकसभा सीट से सपा सांसद नागेन्द्र प्रताप सिंह पटेल ने भी योगी सरकार के इस फैसले पर विरोध जताया है. उन्होंने कहा कि नाम बदलने से बेहतर कुंभ के नाम पर उजाड़े गए लोगों को बसाना जरुरी है.

-----

अखिलेश ने साधा निशाना

अखिलेश यादव ने भी बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला है. अखिलेश ने ट्वीट कर कहा की, राजा हर्षवर्धन ने अपने दान से ‘प्रयाग कुम्भ’ का नाम किया था और आज के शासक केवल ‘प्रयागराज’ नाम बदलकर अपना काम दिखाना चाहते हैं. इन्होंने तो ‘अर्ध कुम्भ’ का भी नाम बदलकर ‘कुम्भ’ कर दिया है. ये परम्परा और आस्था के साथ खिलवाड़ है.

-----

रिटायर्ड जस्टिस मार्कण्डेय काटजू ने बदले 18 नाम

Katju changed the name of 18 districts
फोटो सौजन्य से:- Aajtak.com

सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस मार्कण्डेय काटजू ने इलाहाबाद का नाम बदलने पर योगी सरकार पर तंज कसते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को कई अन्य शहरों के भी नाम बदलने का सुझाव दिया है. इसके साथ ही काटजू ने 18 जिलों की लिस्ट भी बीजेपी को भेज दी है:-

1. अलीगढ़ को अश्वत्थामा नगर
2. आगरा को अगस्तीनागर
3. गाजीपुर को गणेशपुर
4. शाहजहांपुर को सुग्रीवपुर
5. मुजफ्फरनगर को मुरलीमनोहर नगर
6. आज़मगढ़ को अलकनंदपुर
7. हमीरपुर को हस्तीपुर
8. लखनऊ को लक्ष्मणपुर
9. बुलंदशहर को बजरंगबलीपुर
10. फैजाबाद को नरेन्द्र मोदी पुर
11. फतेहपुर से अमितशाह नगर
12. फतेहपुर सीकरी को योगी आदित्यनाथ पुर
13. फिरोज़ाबाद को द्रोणाचार्यनगर
14. फरुखाबाद को अंगदपुर
15. गाजियाबाद से घाटोतकचनगर
16. सुल्तानपुर को सरस्वती नगर
17. मोरादाबाद को मन की बात नगर
18. मिर्जापुर को मीराबाई नगर