आजाद भारत का पहला आतंकी हिंदू था, तभी से आतंक की शुरुआत हुई थी: कमल हासन

कांग्रेस के दिग्गज नेता और भोपाल की लोकसभा सीट से प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के बाद अब अभिनेता से राजनेता बने कमल हासन ने भी हिन्दू आतंकवाद को लेकर एक विवादित बयान दे दिया है. जिससे चुनावी माहौल गरमा गया है.

kamal haasan controversial statement says india first terrorist was hindu
kamal haasan controversial statement says india first terrorist was hindu

कमल हासन तमिलनाडु के अरावकुरिचि में एक चुनाव अभियान में गए थे. इस दौरान उन्होंने जनता को सम्बोधित करते हुए कहा कि आजाद भारत का पहला आतंकी एक हिंदू था. जिसका नाम नाथूराम गोडसे था. उसी के बाद से आतंक की शुरुआत हुई थी. और मैं ऐसा इसलिए नहीं कह रहा कि ये मुस्लिम बहुल इलाका है, बल्कि इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि मेरे सामने गांधी की प्रतिमा है. मैं उनकी हत्या का जवाब ढूंढने आया हूँ.

-----

हासन ने आगे कहा कि मैं एक ऐसा भारत चाहता हूं जहां सभी को बराबरी का हक़ मिले. मैं एक अच्छा भारतीय हूं और मैं तो यही चाहता हूं. उधर हासन के बयान पर बिना देर किये बीजेपी ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष तमिलसई सौंदरराजन ने ट्वीट कर कमल हासन पर तंज कसते हुए कहा कि गांधी की हत्या और हिंदू आतंकवाद का मामला अभी उठाना निंदनीय है.

उन्होंने आगे कहा कि तमिलनाडु के उपचुनाव से पहले अल्पसंख्यकों के वोट जुटाने के लिए ये मुद्दा उठाकर हासन आग से खेल रहे हैं. कमल हासन ने श्रीलंका के बम ब्लास्ट पर कोई विचार नहीं दिया है. बीजेपी के बाद अभिनेता विवेक ओबेरॉय का रिएक्शन सामने आया है. उन्होंने कमल हासन से अनुरोध किया है कि देश को मत बांटें.

विवेक ओबेरॉय ने लिखा, ‘डियर कमल सर, आप महान कलाकार हैं. जिस तरह कला का कोई धर्म नहीं होता, उसी तरह आतंक का भी कोई धर्म नहीं होता! आप कह सकते हैं कि गोडसे आतंकवादी हैं. आप ‘हिंदू’ शब्द का इस्तेमाल क्यों कर रहे हैं? इसलिए क्योंकि आप वोटों की खातिर मुस्लिम बहुल इलाके में हैं?’ फिर दूसरे ट्वीट में विवेक ने लिखा कि ‘प्लीज सर, एक छोटा-सा कलाकार एक महान कलाकार से कहना चाहता है कि इस देश को मत बांटो, हम एक हैं. जय हिंद.’