कालीचरण (Kalicharan) पर केस हुआ दर्ज,कहा गांधी को गाली देने पर कोई अफसोस नहीं..

Kalicharan

रायपुर की धर्म संसद में एक संत महत्मा गांधी को गाली देने के बाद देशभर में वजह बनने के बाद अब संत कालीचरण (Kalicharan) का एक और नया बयान सामने आया है..और अपने उस बयान में कालीचरण ये कह रहें हैं कि मुझ पर एफआईआर हुई है इस बात का मुझे कोई पश्चाताप नहीं है..मैं गांधी से नफरत करता हूं..मेरे गांधी के लिए तिरस्कार है..और अपने नए बयान में कालीचरण ने गोडसे को महत्मा कहा और ये भी कहा कि मैं गोडसे को कोटि-कोटि नमन करता हूं..और उनके चरणों में मेरा साष्टांग प्रणाम है..

भरे मंच पर महत्मा गांधी को गाली देने के बाद कालीचरण फरार हो गए..और फिर आधी रात को कालीचरण (Kalicharan) ने अपना पक्ष रखते हुए एक वीडियो जारी किया..और फिर भी वीडियो में उन्हीं बातों को किया जिस बात पर उनपर केस दर्ज हुआ है..

कालीचरण ने महत्मा गांधी पर भगत सिंह की फांसी को न रुकवाने का लगाया आरोप

कालीचरण (Kalicharan) ने कहा कि महत्मा गांधी की वजह से ही सरदार वल्लभ भाई देश के प्रधानमंत्री नहीं बन पाए..अगर उनको गांधी ने प्रधानमंत्री बनने दिया होता तो आज भारत अमेरिका से ज्यादा पावर वाला बन सकता था..कालीचरण ने कहा गांधी ने वंशवाद को बढावा दिया..और भगत सिंह की फांसी को भी नहीं रुकवाया..
अपने वीडियो में काली चरण ने कहा कि कोई राष्ट्र का पिता नहीं हो सकता..अगर राष्ट्रपिता बनाना है तो छत्रपति शिवाजी, राणा प्रताप,और सरदार पटेल जैसे लोगों को बनाना चाहिए..जिन लोगों ने राष्ट्र को एक करने का काम किया..और गांधी को बंटवारा करने वाला कहा..

अपने उपर लिखी गई एफआई पर कालीचरण (Kalicharan) ने कहा कि अगर सच बोलने के लिए मुझे जान से भी मार दिया जाए तो वह स्वीकार कर लेंगें..कालीचरण ने कहा कि शिवाजी महाराज का उदाहरण देने हुए कहा कि धर्म की रक्षा करने के लिए उन्होंने अपनी जान दे दी..तो फिर मुझ जैसे तुच्छ जी कर क्या करेंगें..मेरे जैसे तो करोंडों कालीचरण मरने को तैयार हैं..

कालीचरण (Kalicharan) पर एफआईआर दर्ज हो चुकी है..और ये बात तब सामने आई जब कालीचरण रायपुर छोड़कर जा चुके हैं..केस होने के बाद कालीचरण की तलाश हो रही है..और कालीचरण के महाराष्ट्र में होने की खबर सामने आ रही है..अभी भी तलाश जारी है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *