जेएनयू बवाल: दिल्ली पुलिस ने जारी की 9 आरोपियों की तस्वीरें, आइशी घोष का नाम भी शामिल

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने 5 दिन बाद शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस करके बड़ा खुलासा किया है.

jnu violence delhi police conference reveals many names
jnu violence delhi police conference reveals many names

नकाब पहन कर आये बदमाशों की पहचान दिल्ली पुलिस ने कर ली है. जेएनयू के नौ लोगों की पहचान कर ली गई है. सबसे बड़ी बात है कि इन नौ लोगों में जेएनयू की अध्यक्ष आइशी घोष भी शामिल हैं. पुलिस का कहना है कि जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत कुछ लोगों ने पेरियार छात्रावास में छात्रों पर हमला किया किया है.

दिल्ली पुलिस ने नौ दंगाइयों की पहचान के साथ सबका फोटो भी जारी किया है. जिसमें चुनचुन कुमार, पंकज मिश्रा, आईशी घोष, सुचेता ताल्लुकदार, वास्कर विजय, प्रिया रंजन, योगेंद्र भारद्वाज (यूनिटी अगेंस्ट लेफ्ट के एडमिन), विकास पटेल, डोलन सामंता के नाम शामिल हैं. ये सभी तीन, चार और पांच तारीख की झड़प में शामिल थे.

दिल्ली पुलिस ने बाताया कि जेएनयू हिंसा मामले में कुल तीन केस दर्ज किए गए हैं. जिसमें सर्वर रूम में तोड़फोड़, रजिस्ट्रेशन समर्थकों से मारपीट और हॉस्टल में घुसकर हमला करना शामिल है. पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है. सर्वर बंद होने के कारण सीसीटीवी फुटेज नहीं मिले हैं, क्योंकि जेएनयू छात्रों ने सर्वर को नुकसान पहुंचा दिया था. नकाबपोशों ने घुस-घुसकर एक-एक कमरे में छात्रों को मारा था. हमलावरों को सभी रास्ते मालूम थे. पेरियार छात्रावास में कुछ खास कमरों को निशाना बनाया गया था.

दरअसल रविवार देर शाम नकाब पहने हुए करीब 40 से 50 युवकों की भीड़ कैंपस में पहुंची थी और छात्रों, हॉस्टल, वाहनों पर जमकर लाठियां और पत्थर बरसा दिए. इस हमले में जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आईषी घोष और महिला शिक्षक सुचित्रा सेन को सिर में गंभीर चोट आई थीं. उसके साथ करीब 30 से ज्यादा छात्र और शिक्षक भी घायल हुए हैं. हमलावरों की भीड़ ने गर्ल्स हॉस्टल में भी जाकर शीशे तोड़े और छात्राओं से भी मारपीट की थी.

दिल्ली पुलिस ने नौ तस्वीरें दिखाईं लेकिन उनके पास कोई पुख्ता सुबूत नहीं हैं की हमलावर यही लोग हैं. किसी ने इन फोटोज़ में नक़ाब नहीं पहन रखा है. सवाल ये उठ रहे हैं कि हमलावर अचानक आए और फिर गायब हो गए ये कैसे संभव है ? कम से कम एक नकाबपोश की ही तस्वीर जारी कर देते.

136 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *