J&K DDC इलेक्शन: BJP 74 सीटें जीत कर बनी सबसे बड़ी पार्टी, कुछ सीटों पर फंसा PoK और पाकिस्तानी पेंच, देखें-

जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद (DDC) चुनाव की 280 सीटों के लिए काउंटिंग दूसरे दिन भी जारी है. 280 में 244 सीटों के नतीजे सामने आ चुके हैं. एक उम्मीदवार की राष्ट्रीयता के मुद्दे के कारण मतों की गिनती रोक दी गई थी.

Jammu Kashmir DDC Election Results counting
Jammu Kashmir DDC Election Results counting

मामला ये है कि सोमैया सदाफ जो एक पाकिस्तानी नागरिक हैं और एक दशक पहले से कश्मीरी पति के साथ यहां रह रही हैं.सौमैया ने मीडिया कर्मियों को बताया कि जब उसने नामांकन पत्र दाखिल किया तो कोई मुद्दा नहीं था, लेकिन अब वे मेरी राष्ट्रीयता का मुद्दा उठा रहे हैं. दूसरी ओर हाजिन-ए में भी मतगणना की प्रक्रिया को रोक दिया गया, क्योंकि उम्मीदवार शाजिया पीओके से हैं, जिसने एक कश्मीरी से शादी की थी जो वहां आतंकी बनने के लिए हथियारों के प्रशिक्षण के लिए गया था.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जब तक इस मुद्दे को हल नहीं किया जाता तब तक बैलट बॉक्स को प्रोटोकॉल के अनुसार स्ट्रांग रूम में रखा जाएगा. वहीं जम्मू-कश्मीर में पहली बार हुए जिला विकास परिषद चुनाव में कई सियासी दिग्गज हार गए हैं. पूर्व मंत्री, पूर्व सांसद और पूर्व विधायकों से लेकर उनके रिश्तेदारों को हार का सामना करना पड़ा है. पूर्व सांसद और पीडीपी के वरिष्ठ नेता त्रिलोक सिंह बाजवा जम्मू जिले की सुचेतगढ़ सीट से चुनाव हार गए हैं.

हालाँकि 280 में 244 सीटों के नतीजे आ चुके है और इनमें पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकार डिक्लरेशन (PAGD) को 110 सीटों पर जीत मिली है. हालांकि इस चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. बीजेपी के खाते में अब तक 74 सीटें आ चुकी हैं. बीजेपी के लिए अच्छी खबर ये है कि 3 सीटों के साथ उसने पहली बार कश्मीर में खाता खोला है. यहां तक कि निर्दलियों को भी 49 सीटें मिली हैं. इसके अलावा कांग्रेस ने भी 26 सीटों पर कब्जा जमाया है.

जम्मू और कश्मीर के अलग-अलग नतीजों की बात करें तो जम्मू में बीजेपी का बोलबाला रहा है. यहां पार्टी ने 71 सीटों पर कब्जा जमाया, जबकि गुपकार गठबंधन ने 35 सीटें हासिल की और कांग्रेस को यहां 17 सीटों पर जीत मिली है. इसके उलट कश्मीर में गुपकार गठबंधन एकतरफा हावी है. गुपकार गठबंधन को यहां 72 सीटें हासिल हुईं, जबकि बीजेपी तीन सीटें ही हासिल कर पाई और कांग्रेस को 10 सीटें मिलीं हैं.

जम्मू-कश्मीर में DDC की 280, वार्ड की 234 और पंच-सरपंच की 12,153 सीटों के लिए 8 फेज में चुनाव हुए थे. इनमें 51% वोटिंग हुई थी. DDC के इन चुनावों को बीजेपी के लिए जम्मू कश्मीर में लिटमस टेस्ट के रूप में देखा जा रहा है. अब विधानसभा क्षेत्रों का डी लिमिटेशन होना है. इसके बाद विधानसभा चुनाव होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *