क्यों प्यार में पड़ गए ये भारतीय नेता ?

हिन्दुस्तान में इंटर-कास्‍ट मैरेज का मतलब लव मैरेज है. और यहाँ फ़िल्मी स्टार से लेकर नेता भी अपने लव मैरेज को लेकर सुर्ख़ियों में बने रहते हैं. कहते हैं प्यार Love किया नहीं जाता हो जाता है. ऐसा ही प्यार Love हमारे देश के नेताओं को भी हुआ. राजनीति में ऐसे कई नेता और मंत्री हैं जिन्होंने लव मैरेज की है और चर्चा में भी रहे हैं. आज हम ऐसे कुछ नेताओं के बारे में बात करेंगे जिन्होंने लव मैरेज की है.

क्यों प्यार में पड़ गए ये भारतीय नेता ?
क्यों प्यार में पड़ गए ये भारतीय नेता ?

मुख्तार अब्बास नकवी

बीजेपी सांसद मुख्तार अब्बास नकवी ने लव Love मैरिज की है. उनकी शादी जून 1983 में हुई थी. इनकी पत्नी सीमा एक हिंदू परिवार से ताल्लुक रखती हैं. सीमा को मुख्तार पहली नजर में ही पसंद आ गए थे. सीमा बेहद शर्मीली थीं. शुरुआत में सीमा की मां शादी को लेकर खिलाफ थीं, लेकिन बाद में मुख्तार और सीमा की प्रेम कहानी सफल हो गई.

-----

शहनवाज हुसैन

-----

बीजेपी के युवा नेता शहनवाज हुसैन ने भी लव मैरिज किया है. उनकी पत्नी का नाम रेणु शर्मा है. दोनों की प्रेम कहानी कॉलेज के जमाने में शुरू हुई थी. शहनवाज कहते हैं कि रेणु की आंखें देखकर वो उनकी ओर अट्रैक्ट हुए थे. उन्हें अपने प्यार Love को पाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी थी. क्योंकि वे एक हिंदू लड़की से मोहब्बत जो कर बैठे थे. आखिरकार 1994 में दोनों ने शादी कर ली. दोनों की शादी कराने में उमा भारती ने मुख्य भूमिका निभाई थी. उन्होंने ही दोनों के परिवार को कनविंस किया था. दोनों के 2 बेटे हैं.

सुशील मोदी

बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने भी लव Love मैरेज की है. उनकी पत्नी जेसिस जार्ज ईसाई धर्म से हैं. जेसिस एक कॉलेज में प्रोफेसर हैं. सुशील मोदी और उनकी वाइफ जेसिस की पहली मुलाकात ट्रेन में हुई थी. जब दोनों के प्यार Love की बात घरवालों को पता चली तो वह काफी नराज हुए थे. पर उनके घरवालों को समझाया गया और वे राजी हो गए. यही नहीं अटल बिहारी वाजपेयी भी पटना आकर सुशील मोदी की शादी में शामिल हुए थे. दोनों के दो बेटे उत्कर्ष और अक्षय अमृकतांक्षु हैं.

उमर अब्दुल्ला

जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की लव स्टोरी भी चर्चा में रही थी. उनकी पत्नी का नाम पायल है. दोनों होटल ओबेरॉय में एक साथ काम किया करते थे. उमर अब्दुल्ला की पायल से पहली मुलाकत दिल्ली की ओबेराय होटल में हुई थी. पायल नाथ, एक सिख फैमिली से थी, उनके पिता मेजर जनरल रामनाथ सेना से रिटायर्ड हैं. दोनो ने 1994 में लव Love मैरिज की थी. लेकिन 2011 में पायल और उमर के बीच तलाक हो गया था. दोनों के दो बच्चे भी हैं, जिनका नाम है जाहिर और जमीर है. तलाक के बाद से पायल दिल्ली में अपने दोनों बेटों के साथ रहती हैं.

-----

सुब्रह्मणयम स्वामी

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्रह्मणयम स्वामी ने भी लव मैरेज की है. उनकी पत्नी रोक्सना स्वामी सुप्रीम कोर्ट में नामी वकील हैं. दोनों की शादी जून, 1966 में हुई थी. रोक्सना स्वामी बताती है कि उन दोनों की शादी अरेंज मैरिज नहीं थी. वो एक पारसी हैं. सुब्रह्मण्यम स्वामी हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे थे. वहीं पर दोनों की मुलाकात हुई और बाद में शादी कर ली.

सचिन पायलट

सचिन पायलट ने पूर्व केंद्रीय मंत्री फारूख अब्दुल्ला की बेटी सारा अब्दुल्ला से शादी की है. इनकी मुलाकात लंदन में पढ़ाई के दौरान हुई थी. इनकी शादी में भी बड़ी मुश्किल थी, क्योंकी सचिन एक हिंदू थे और सारा मुश्लिम. सारा के पिता फारूख अब्दुल्ला उन्हें स्वीकार नहीं कर रहे थे. जब परिवार नहीं माना, तो दोनों ने 15 जनवरी 2004 को दिल्ली में शादी कर ली. फिर कुछ समय बाद सारा के परिवार ने इस शादी को स्वीकार कर लिया.

अखिलेश यादव

UP के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने डिंपल से लव मैरिज की है. अखिलेश और डिंपल की मुलाकात एक कॉमन फ्रेंड के घर हुई थी. उस वक्त अखिलेश 21 साल के थे और डिंपल की उम्र 17 साल थी. दोनों चार साल तक एक-दूसरे को डेट करते रहे. डिंपल के पिता एक आर्मी अफसर हैं. बतादें कि ये रिश्ता मुलायम को नहीं पसंद था, लेकिन अखिलेश की जिद के आगे उन्हें झुकना पड़ा. और दोनों की शादी हो गई.

मनीष तिवारी

कांग्रेस के नेता मनीष तिवारी ने भी लव मैरेज की है. उन्होंने नाजनीन सफा से शादी की है. नाजनीन सफा पारसी धर्म से आती हैं. 1989 में जब मनीष NSUI के प्रेसीडेंट थे तब नाजनीन मुंबई में वीमेन विंग की प्रेसीडेंट थी. इसके बाद नाजनीन ने मुंबई यूनिवर्सिटी से इकॉनोमिक्स में मास्टर किया और बाद में एयर इंडिया के साथ काम करने लगीं. दोनों की कई मुलाकातें मुंबई और दिल्ली में हुई. फिर 1996 में दोनों ने शादी कर ली. दोनों की एक बेटी है जिसका नाम इनेका तिवारी है.

चंद्रमोहन उर्फ़ चांद मोहम्मद

हरियाणा के पूर्व डिप्टी सीएम रहे चंद्रमोहन ने शादीशुदा होने के बाद भी लव मैरेज की और काफी सुर्खियों में भी रहे थे. चन्द्रमोहन उस समय विधायक थे, तब अनुराधा से उनकी पहली मुलाकात एक जूस की दुकान पर हुई थी. कई दिनों की दोस्ती के बाद दोनों में प्यार Love हो गया. चंद्रमोहन की फैमिली उनकी मोहब्बत के खिलाफ थी. इसलिए कुछ दिनों तक दोनों गायब हो गए. फिर एक दिन दोनों एक साथ सामने आए. दोनों ने धर्म बदल लेने की बात कबूल की. दोनों ने इस्लाम कबूल कर के शादी कर लिया था. धर्म बदलने पर उनका नाम चांद मोहम्मद और अनुराधा का नाम फिजा हो गया था.

देवेन्द्र फडणवीस

बीजेपी के नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने भी लव मैरेज की है. उनकी पत्नी का नाम अमृता है. अमृता से उनकी पहली मुलाकात एक दोस्त के घर पर हुई थी. पहली ही मुलाकात में देवेन्द्र अमृता को दिल दे बैठे थे. अमृता एक बैंकर हैं. इन दोनों ने पहली ही मुलाकात में शादी का फैसला कर लिया था.

वरुण गांधी

संजय गांधी और मेनका गांधी के बेटे वरुण की लव Love स्टोरी को परिवार का सपोर्ट मिल गया था. युवा नेता और लोक सभा सदस्य वरुण और यामिनी की पहली मुलाकात न्यूयॉर्क में हुई थी. यामिनी ग्राफिक डिजाइनर हैं. यामिनी बंगाली परिवार से हैं. अपनी शादी में यामिनी ने वही साड़ी पहनी थी जो इंदिरा गांधी ने मेनका गांधी को उनकी शादी पर दी थी.

ज्योतिरादित्य सिंधिया

ज्योतिरादित्य सिंधिया पहली बार दिल्ली में प्रियदर्शनी से मिले थे. फिर इस मुलाकात के 3 साल बाद दोनों ने शादी की. ज्योतिरादित्य पहली ही मुलाकात में प्रियदर्शिनी से शादी करने का फैसला कर चुके थे. वे बड़ौदा के मशहूर गायकवाड़ राज-परिवार की राजकुमारी हैं. मध्य प्रदेश के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में हैं. सिंधिया के पिता माधवराव सिंधिया भी केंद्र में रेल और मानव संसाधन मंत्री रह चुके हैं. दोनों के जीवन में एक पुत्र और एक पुत्री भी हैं. प्रियदर्शनी राजे सिंधिया को अंग्रेजी पत्रिका ‘फेमिना’ द्वारा 2012 में भारत की 50 खूबसूरत महिलाओं में जगह दिया गया था.

गौरव गोगोई

कांग्रेस के युवा नेता गौरव गोगोई असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के बेटे हैं. गौरव और उनकी वाइफ एलिजाबेथ की लव स्टोरी न्यूयॉर्क में शुरु हुई थी. उस समय गौरव और एलिजाबेथ दोनों ही संयुक्त राष्ट्र सचिवालय की प्रतिबंध समिति में इंटर्नशिप कर रहे थे. हाय-हैलो से ये रिश्ता शुरु हुआ और पहले दोस्ती फिर प्यार Love में बदल गया. उसके बाद दोनों शादी कर के सेटल हो गए.

पप्पू यादव

बिहार के बाहुबली नेता पप्पू यादव और रंजीता रंजन की लव स्टोरी भी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है. एक मर्डर के मामले में जब पप्पू यादव जेल में सजा काट रहे थे, तभी उन्हें रंजीता से प्यार हो गया था. उन्हें अपनी प्रेमिका रंजीता को मनाने के लिए काफी पापड़ बेलने पड़े थे. वे इतने बड़े वाले आशिक हैं कि रंजीता रंजन की फोटो देखकर ही फिदा हो गए और उनकी एक झलक पाने के लिए हर दिन टेनिस कोर्ट पहुंच जाते थे, जहां वो खेला करती थीं. रंजीता ने इसका काफी विरोध किया और कई बार पप्पू को मना किया, एक बार तो रंजीता ने यहां तक कह दिया कि वे सिख हैं और पप्पू हिंदू, उनके परिवार वाले ऐसा होने नहीं देंगे. पप्पू यादव भी उनके घर वालों को मना मना कर थक चुके थे फिर उन्हें पता चला कि कांग्रेस नेता एसएस अहलूवालिया उनकी मदद कर सकते हैं. बस फिर क्या था पप्पू यादव उनसे मिलने दिल्ली जा पहुंचे और उनसे मदद की गुहार लगाई. तब जाकर रंजीता के घरवाले शादी को लेकर तेयार हो गए. और पप्पू-रंजीता की शादी हो गई.

शत्रुघ्न सिन्हा और पत्नी पूनम

बिहारी बाबू शत्रुघ्न सिन्हा, जिन्हें दुनिया शॉटगन के नाम से भी जानती है उनकी लव स्टोरी भी बेहद ख़ास है. चलती ट्रेन में शत्रुघ्न सिन्हा ने एक पेपर पर फिल्म पाकीजा का फेमस डायलॉग ‘अपने पांव जमीन पर मत रखिएगा…’ ‌‌लिखा. इसके बाद वो घुटनों पर बैठे और ये खत देकर पूनम को प्रपोज कर दिया. लेटर पढ़कर पूनम मुस्कुरा दीं और हां बोल ‌दिया.

जब शादी करने की बात आई तो पूनम की माँ ने जो कहा उसको सुनकर आप जरूर हंस पड़ेंगे. दरअसल शत्रु ने अपने बड़े भाई राम शत्रु के लिए पूनम का हाँथ मांगने पूनम की मां से मिलने उनके घर गए थे. राम की बात सुनते ही पूनम की मां भड़क गईं. उन्होंने कहा कि ‘मेरी बेटी दूध जैसी गोरी और कहां वो लड़का, वो भी चोर की एक्टिंग करता है. वो मेरी बेटी से कैसे शादी करेगा. लेकिन फिर दोनों ने अपनी तरह से बात की और फिर दोनों की शादी हो गई थी.

2 thoughts on “क्यों प्यार में पड़ गए ये भारतीय नेता ?

  • June 28, 2021 at 5:14 pm
    Permalink

    आपका आर्टिकल बहुत ही अच्छा बहुत अति प्रिय मुझे लगा ऐसे आर्टिकल बहुत ही अच्छे लेखक लिख पाते हैं आप तो बहुत ही सुंदर लिखे हैं आर्टिकल मैं आपको बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *