भारत का हिस्सा है गिलगित-बाल्टिस्तान, मौसम विभाग की लिस्ट में हुए शामिल, बढ़ा टकराव

पीओके भारत का हिस्सा है और ये बात बिलकुल सत्य है. अब भारतीय मौसम विभाग के डायरेक्टर जनरल मृत्युंजय मोहपात्रा ने भी एक बड़ी घोषणा कर दी है. जिससे पाकिस्तान के पसीने छूट गए हैं.

india meteorological weather forecast list include gilgit baltistan
india meteorological weather forecast list include gilgit baltistan

दरअसल भारतीय मौसम विभाग ने अपने वेदर बुलेटिन में पहली बार पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) के इलाकों को भी शामिल कर लिया है. आईएमडी के डायरेक्टर जनरल मृत्युंजय मोहपात्रा ने बताया कि आईएमडी पूरे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लिए बुलेटिन जारी करता है. हम अब गिलगित, बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद के लिए भी बुलेटिन जारी कर रहे हैं, क्योंकि ये भारत का हिस्सा हैं.

-----

बता दें कि मुजफ्फराबाद और गिलगित-बाल्टिस्तान पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के अंतर्गत आते हैं. देश में इस समय 36 मौसम संबंधी उप-मंडल हैं. इन्हें राज्य की सीमाओं के साथ परिभाषित किया गया है. ऐसा तब हुआ है जब कुछ दिनों पहले ही पाकिस्तान के उच्चतम न्यायालय ने संघीय सरकार को गिलगित-बाल्टिस्तान में चुनाव कराने की अनुमति दी है.

दरअसल गिलगित-बाल्टिस्तान की सरकार का कार्यकाल जून महीने में पूरा होने जा रहा है और विधानसभा भंग होने के 60 दिन के भीतर आम चुनाव होंगे. पाकिस्तान के इस फैसले पर भारत सरकार ने कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा है कि पूरा जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और पाकिस्तान इसकी स्थिति में कोई परिवर्तन नहीं कर सकता है.

भारत के विदेश मंत्रालय ने बयान में कहा था कि कश्मीर और लद्दाख समेत गिलगित-बाल्टिस्तान भी कानूनी रूप से भारत का अभिन्न हिस्सा है. भारत ने पाकिस्तान को कब्जे वाले क्षेत्रों के दर्जे में बदलाव के बदले अवैध कब्जे वाले सभी क्षेत्रों को तुरंत खाली करने की मांग की थी.

आईएमडी के मुताबिक, पीओके के ये शहर आईएमडी की उत्तर-पश्चिम डिवीजन के तहत आते हैं. उत्तर-पश्चिम डिवीजन में 9 सबडिवीजन हैं. इनमें जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली-चंडीगढ़-हरियाणा, पंजाब, पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी राजस्थान शामिल हैं.