शाह का बड़ा ऐलान, कहा- एक भी अवैध अप्रवासी को देश में नहीं रहने देंगे, ये हमारा वादा है

गुवाहाटी में नॉर्थ-ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) कॉन्क्लेव में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हर राज्य भारत का अभिन्न हिस्सा है.

home minister amit shah says no illegal migrant allowed in india
home minister amit shah says no illegal migrant allowed in india

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि भारत में एक भी घुसपैठिए को रहने नहीं दिया जाएगा. भारत की धरती पर एक भी अवैध अप्रवासी को ठहरने नहीं दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि असम में एनआरसी की प्रक्रिया तयशुदा वक्त में पूरी हुई है. नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन्स (NRC) पर कई लोगों ने कई तरह के सवाल उठाए हैं, मैं स्पष्ट रूप से कह देना चाहता हूं कि एक भी अवैध अप्रवासी को भारत सरकार देश में नहीं रहने देगी. ये हमारा वादा है.

-----

इसे शेड्यूल के मुताबिक पूरा किया जायेगा. अनुच्छेद 371 संविधान की विशेष व्यवस्था है और बीजेपी सरकार इसका सम्मान करती है और इसमें किसी तरह का बदलाव नहीं किया जाएगा. उत्तर पूर्व और शेष भारत का जुड़ाव पुरातन काल से है जिसका जिक्र महाभारत के समय से मिलता है, किंतु गुलामी के कालखंड के अंदर यहां का स्वरूप बिगाड़ा गया. आजादी के बाद से 2014 तक कांग्रेस ने नॉर्थ ईस्ट में भाषा, जाति, संस्कृति, क्षेत्र विशेष के आधार पर झगड़े पैदा किए. इससे पूरा नॉर्थ ईस्ट अशांति का गढ़ बन गया.

यहां विकास की जगह भ्रष्टाचार को अहम जगह देने का काम कांग्रेस ने किया है. कांग्रेस ने फूट डालो और राज करो वाली नीति ही अपनाई थी. शाह ने कहा कि नार्थ ईस्ट के राज्यों ने एनआरसी पर चिंता व्यक्त की है कि काफी लोग छूट गए हैं और गहनता से काम होना चाहिए. मैं सभी को आस्वस्त करना चाहता हूं कि एक भी घुसपैठिया असम के अंदर रह भी नहीं पाएगा और दूसरे राज्य में घुस भी नहीं पाएगा.

आज सीमा पर जिस प्रकार से कई आहत करने वाली गतिविधियां चल रही हैं, उस पर हमारी सरकार कठोर होने जा रही है. ड्रग्स, हथियारों की स्मग्लिंग और मावन तस्करी के खिलाफ केंद्र सरकार कठोर कदम उठाने जा रही है.