भारतीय सीमा में घुसे चीनी लड़ाकू विमान रक्षामंत्री बोले युद्ध हुआ तो जीत हमारी..

PRAGYA KA PANNA
PRAGYA KA PANNA

दोस्तों चीन की तरफ से खतरा बहुत बड़ा है..ये समझने और सतर्क हो जाने का वक्त आ गया है..ना कोई आया है ना कोई घुसा है..ना कोई घुसा हुआ है बोलने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को छोड़ दीजिए..नरेंद्र मोदी देश से खुलेआम झूठ क्यों बोलते हैं..ये वही जानें..लेकिन देश के रक्षा मंत्री को सुनिए भारत देश के रक्षा मंत्री का कहना है कि..चीन के इरादे नेक (Chinese Fighter Planes entered the Border) नहीं हैं..

यही नहीं राजनाथ सिंह ने यहां तक कह दिया कि अगर युद्ध हुआ तो जीत हमारी होगी..दोस्तों अब तक आपने देखा है कि चीन लद्दाख में भारत की जमीन पर कब्जा कर रहा था..लेकिन अब अति हो चुकी है चीन (Chinese Fighter Planes entered the Border) ने भारत की सीमा के भीतर लड़ाकू विमान उड़ाने शुरु कर दिए हैं..पेंगोग लेक के ऊपर चीनी लड़ाकू विमान उड़ान भर रहे हैं..जाहिर है चीनी सेना ब्लॉगिंग तो कर नहीं रही होगी..इरादा जमीन कब्जाना या हमला करने जैसा ही होगा..दोस्तों आज हम समझेंगे कि चीनी लड़ाकू जहाज भारत की सीमा में क्यों मंडराते हैं..

दोस्तों भारतीय सीमा में अपने लड़ाकू जहाज उड़ाना चीन की ताइवान वाली चाल है..ये चाल अब तक चीन जापान और ताइवान के खिलाफ चलता था लेकिन भारत के खिलाफ भी चीन (Chinese Fighter Planes entered the Border) ने वही हथकंडा अपनाना शुरू कर दिया है..मतलब पहले दुश्मन की सीमा में घुसो..इलाके की भौगोलिक संरचना की वीडियो ग्राफी करो..

दुश्मन की सेना की पूरी जानकारी लो..उनके विमानों को उकसाओ..वो कितनी देर में उड़ सकते हैं..उनका आइडिया लो..अगर एयर डिफेंस सिस्टम है तो वो कितना मारक है इसकी एक बानगी लो..कुल मिलाकर भारत की शक्ति मस्तैदी ताकत और मैपिंग के लिए चीनी (Chinese Fighter Planes entered the Border) फाइटर प्लेन भारत की सरहद में मंडरा रहे हैं..ये रिपोर्ट बनाने के लिए हमने रक्षा विशेषज्ञों के भी बात की है..रक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि..

चीन ने भारतीय सीमा में लड़कू विमान उडा़ना 24-25 मई से शुरू किया है..और चीन इसके वीडियो बनाकर..खुद को शक्किशाली होने की घोषणा करता है..ये जो वीडियो आप देख रहे हैं..ये चीनी आर्मी का जारी किया हुआ वीडियो है जो पेंगॉंग लेक के ऊपर उड़ रहा है..रक्षा विशेषज्ञ बताते हैं कि हालत ये हैं कि एक बार तो चीनी लड़ाकू विमान पूर्वी लद्दाख में भारतीय सैनिकों की चौकियों के ऊपर से गुजरा..वो भी तब जब एलएसी के 10 क‍िमी के इलाके (Chinese Fighter Planes entered the Border) में नो फ्लाई जोन है..ड्रैगन की इस खतरनाक चाल का जवाब देने के लिए भारत अब चीन की सीमा पर S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम की तैनाती करने जा जा रहा है..

दोस्तों चीन भारतीय हवाई रक्षा तंत्र की परख करने के लिए अपने फाइटर जेट को भारतीय इलाके में भेज रहा है..रक्षा विशेषज्ञ पूर्व विंग कमांडर प्रफुल्‍ल बख्‍शी ने एक वेबसाइट को ये बताया कि चीन ये जानना चाहता है कि भारत उसके फाइटर जेट (Chinese Fighter Planes entered the Border) को किस तरह से जवाब देता है..चीन ये भी जानना चाहता है कि भारत के प्रतिक्रिया देने में कितना समय लगता है..बताया जा रहा है कि पिछले 3 से 4 सप्‍ताह में चीन की ओर से फाइटर जेट भेजे जाने की घटनाएं काफी ज्यादा बढ़ गई हैं..

दोस्तों भारत और चीन के बीच कमांडर लेवल पर बात चल रही है जिसमें भारत अपने रुख पर अड़ा है कि चीन भारत की जमीन छोड़कर पीछे हटे..भारतीय जमीन पर बने बंकर उखाड़े..सेना की चौकियां हटाए..इससे बौखलाए चीन ने लड़ाकू विमान भेजने शुरू कर दिए हैं जिससे भारत पर दबाव बनाया जा सके..

चीन भारतीय रेडॉर की फ्रिक्‍वेंसी भी चेक कर रहा है..लड़ाकू विमानों के साथ चीन के इलेक्‍ट्रॉनिक जासूसी से लैस विमान भी साथ में उड़ते हैं.. चीन सौ प्रतिशतये देखने की कोशिश कर रहा है कि दुश्‍मन सक्रिय है या सोया हुआ है..दोस्तों चीन (Chinese Fighter Planes entered the Border) ने भारत की 48 हजार वर्ग किलोमीटर जमीन पर कब्‍जा कर रखा है..हमें अपनी रणनीति को आक्रामक बनाने की जरूरत है..नेतागीरी करके मंच से लाल ऑखें पीली आंखे बताने से काम नहीं चलेगा..बतोलीबाजी चुनावों में ही अच्छी लगती है..

डोकलाम में एक बहुत कड़े संदेश की जरूरत है..भारतीय सीमा में चीन घुसे या पाकिस्तान हश्र एक सा होना चाहिए..भारतीय सीमा में घुसने से पहले दुश्मन को 100 बार सोचना पड़े ऐसा संदेश देना चाहिए लेकिन ना जाने कौन सा दबाव है चीन के जहाज भारतीय सीमा में

कलाबाजियां करके जा रहे हैं हम एक भी कलाबाज को पैंगॉग लेक में डुबा नहीं पाए हैं..ये नया भारत है ये बात चुनावी मंच के अलावा दुनिया को भी बताने का वक्त आ गया है कि ये नया भारत है..हमारी सेना दुनिया की सबसे महान सेना (Chinese Fighter Planes entered the Border) है..ये दुनिया जानती है..लेकिन हमारी सरकार दुनिया की सबसे मजबूत सरकार है ये भी बताने की जरूरत है..एक जिम्मेदार नागरिक की हैसियत से हम ये बिल्कुल नहीं कहते कि युद्ध हो..लेकिन आत्मसम्मान की रक्षा तभी हो सकती है जब जैसे को तैसा जवाब दिया जाए..और ये बता दिया जाए कि पैंग्गोग लेक चीनी लड़ाकू विमानों के उड़ने की जगह नहीं है..

Disclamer- उपर्योक्त लेख लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार द्वारा लिखा गया है. लेख में सुचनाओं के साथ उनके निजी विचारों का भी मिश्रण है. सूचना वरिष्ठ पत्रकार के द्वारा लिखी गई है. जिसको ज्यों का त्यों प्रस्तुत किया गया है. लेक में विचार और विचारधारा लेखक की अपनी है. लेख का मक्सद किसी व्यक्ति धर्म जाति संप्रदाय या दल को ठेस पहुंचाने का नहीं है. लेख में प्रस्तुत राय और नजरिया लेखक का अपना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *