दो मस्जिदों में घुसे हमलावर, चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, 30 लोगों की मौत, खुद बताई इसकी वजह-

मुंबई में गुरुवार देर शाम फुट ओवर ब्रिज गिरने के बाद अब न्यूजीलैंड से एक दर्दनाक खबर आ रही है. न्यूजीलैंड के शहर क्राइस्टचर्च में स्थित दो मस्जिद में बंदूकधारियों ने अंधाधुंध गोलियां बरसाईं हैं. इसमें 30 लोगों के मारे जाने की ख़बर सामने आ रही है.

gunmen open fire at mosque in new zealand 30 people died
gunmen open fire at mosque in new zealand 30 people died

हमला दोपहर की नमाज के बाद किया गया. गोलीबारी स्थानीय समय के मुताबिक दोपहर करीब 1.45 बजे हुई. नमाज़ पढ़ कर लोग बाहर निकल ही रहे थे कि कुछ हमलावर बंदूकें लेकर दोनों मस्जिदों में घुस गए और नमाजियों पर गोलियां बरसा दीं. सभी लोग जान बचाने के लिए इधर उधर भागने लगे. चारों तरफ चीख़ पुकार गूंजने लगी.

-----

गोलीबारी की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस वहां पहुंची और मौके से एक महिला समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने मस्जिद के पास से एक कार में रखे कई आईईडी बम को डिफ्यूज किया है. स्थानीय प्रशासन ने लोगों से घरों के अंदर रहने की अपील की है. क्योंकि शहर में हमलावर अब भी सक्रिय हैं. पुलिस ने कहा कि हम स्थिति को संभालने में जुटे हैं लेकिन अभी भी खतरा बना हुआ है. हमलावर सक्रिय है और पुलिस उसकी तलाश कर रही है.

न्यूजीलैंड हेराल्ड के मुताबिक हमलावर ने हमले से पहले 74 पन्नों का एक मेनिफेस्टो भी जारी किया था. जिसमें उसने हमले की वजह भी बताई थी. इस मेनिफेस्टो में हमलावर ने लिखा, ‘मैं मुस्लिमों से नफरत नहीं करता हूं, लेकिन उन मुस्लिमों से नफरत करता हूं, जो हमारी जमीन पर कब्जा कर रहे हैं और धर्म परिवर्तन कर रहे हैं. मैं ये हमला उन इस्लामिक लोगों से बदले के लिए कर रहा हूं जिन्होंने हमें सालों तक जेल में बंद रखा.

वहीँ आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने खुलासा करते हुए कहा है कि गोलीबारी करने वाला बंदूकधारी एक दक्षिणपंथी चरमपंथी है. जिसके पास आस्ट्रेलिया की नागरिकता है. क्राइस्टचर्च में ‘एक चरमपंथी, दक्षिणपंथी, हिंसक आतंकवादी’ ने गोलीबारी की है.

बड़ी बात ये है की बांग्लादेश और न्यूजीलैंड के बीच 16 मार्च से क्राइस्टचर्च में तीन मैच की सीरीज का आखिरी टेस्ट खेला जाना था. बांग्लादेश की टीम के सभी खिलाड़ी हमले से कुछ देर पहले ही क्राइस्टचर्च में जुम्मा (शुक्रवार) की नमाज अता करने अल नूर मस्जिद पहुंचे ही थे कि तभी वहां एक बंदूरधारी ने गोलियां चलानी शुरू कर दी. और हमलावर मस्जिद के अंदर घुस गए. हालांकि इस घटना में किसी खिलाड़ी को चोट नहीं आई है और सभी सुरक्षित हैं.

प्रधानमंत्री जेसिंडा का घटना को लेकर बयान आया है. उन्होंने कहा, ‘यह न्यूजीलैंड के एक काले दिनों में से एक है. यह एक कायरतापूर्ण हरकत है. खबर आ रही है कि कल से क्राइस्टचर्च में ही शुरू होने वाले तीसरे टेस्ट मैच को भी रद्द कर दिया गया है. इसकी जानकारी न्यूजीलैंड क्रिकेट ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर भी दी है.