मोदी सरकार में 150 करोड़ का जीएसटी घोटाला, 142 फर्ज़ी कंपनी बनाकर लगाया चूना

Ulta Chasma Uc  :   मोदी सरकार का एक और बड़ा घोटाला सामने आ रहा है. मोदी सरकार के वाणिज्य कर विभाग ने डेढ़ अरब (150 करोड़) की जीएसटी चोरी का खुलासा किया है. मामला तब सामने आया जब सोमवार को विभूतिखंड थाने में इसकी एफआईआर दर्ज कराई गई. एफआईआर दर्ज होते ही सभी अधिकारियों में हड़कंप मच गया. इससे पहले यूपी की योगी सरकार पर फर्जी शिक्षक भर्ती का आरोप लग चुका है और मोदी सरकार की ‘मृदा स्वास्थ्य कार्ड’ योजना में टेंडर घोटाला हो चुका है. बीजेपी सरकार में ये तीसरा बड़ा घोटाला माना जा रहा है.

fraud in gst by making 142 fake firm
fraud in gst by making 142 fake firm

एफआईआर दर्ज कराने वाले वाणिज्य कर अधिकारी मनोज कुमार दीक्षित ने खुलासा करते हुए बताया कि 142 फर्जी फर्मों के ज़रिये लोहे के कच्चे माल की आपूर्ति में जीएसटी चोरी को अंजाम दिया जा रहा था. इसके पीछे किसी संगठित गिरोह के हाथ होने की आशंका जताई गई है. इतनी सफाई से सरकार को अरबों का चूना लगाने वाले ठग व्यापारियों ने पहले वाणिज्य कर विभाग की ऑनलाइन स्व पंजीयन प्रणाली का दुरुपयोग करते हुए फर्जी फर्मों का पंजीकरण कराया. इसके लिए ठगों ने 112 पैन, बिजली के बिल, मोबाइल नंबर और किराये के कार्यालयों का इस्तेमाल किया.

इस बड़ी चोरी को अंजाम देने के लिए फर्ज़ी वाहनों का भी प्रयोग किया गया. खुलासे में पता चला कि इस चोरी में माल की ढुलाई के लिए ई-वे बिल पर जिन ट्रांसपोर्ट कंपनियों के वाहनों का प्रयोग दिखाया गया है, वे भी फर्जी हैं. एसटीएफ ने माल ढुलाई के लिए इस्तेमाल किए गए विभिन्न ट्रांसपोर्ट कंपनियों के 1591 ट्रक/वाहन अब तक चिह्नित किए हैं.

यूपी में लोहे का कच्चा माल ज्यादातर झारखंड, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ से ही आता है. इन प्रदेशों से टीएमटी बार, एंगल व पट्टी जैसा तैयार माल भी आता है. इस घोटाले के बाद मोदी सरकार पर कई सवाल खड़े हो गए हैं. सरकार ने घोटालों और ‘कर’ चोरी कर रहे लोगों पर लग़ाम लगाने के लिए ही जीएसटी को लॉन्च किया था. अब उसी में ही अरबों की चोरी होने से सरकार सवालों के कटघरे में आ गई है.

घोटाले की जांच में पता चला कि सिर्फ आठ आधार नंबर पर अलग-अलग व्यक्तियों ने 67 फर्मों का पंजीकरण कराया. इसमें से एक आधार नंबर ऐसा निकला जिस पर 27 पंजीकरण पाए गए. इससे आप अनुमान लगा सकते हैं की कितने बड़े पैमाने पर ये घोटाले किये गए और अधिकारियों को इसकी भनक तक नहीं लगी.

Web Title :  fraud in gst by making 142 fake firm

HINDI NEWS से जुड़े अपडेट और व्यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ FACEBOOK और TWITTER हैंडल के अलावा GOOGLE+ पर जुड़ें.