Budget 2020: जानें कौन सी चीजें हुईं सस्ती और कौन सी महँगी ? क्या क्या हुए ऐलान

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दूसरे बजट को लोकसभा में पेश किया है. इस बजट में कहीं फायदा भी है तो थोड़ा नुकसान भी है. आइये जानते हैं बजट में क्या क्या रहा आपके लिए-

finance minister big announcement budget 2020
finance minister big announcement budget 2020

देश का आम बजट पेश होने के बाद सोया प्रोटीन, रॉ शुगर, प्लास्टिक-केमिकल सस्ती हुई. डेली प्रयोग होने वाला स्किम्ड मिल्क, टीवी, सोलर बैट्री सस्ती हुई. न्यूज प्रिंट, प्लैटिनम, प्लास्टिक सीट और इलेक्ट्रिक कारें भी सस्ती हुई हैं तो वहीँ ऑटो पार्टस, मेडिकल इक्विपमेंट, फर्नीचर महंगे हो गए हैं. इससे उपभोक्ताओं की जेब पर असर देखने को मिलेगा. तम्बाकू-सिगरेट, फुटवियर, मोबाइल, जूते-चप्पल भी महंगे हो गए हैं. साथ ही पानी का फिल्टर, ग्लास का सामान, पंखे और मिक्सर भी महंगे हुए हैं.

बैंक में पैसा जमा करने वालों के लिए राहत की खबर है. अब बैंक में पैसे जमा करने पर ग्राहकों को पांच लाख रुपये तक की गारंटी मिलेगी मतलब की अगर बैंक डूब जाती है उसके बाद भी आपके पांच लाख रुपये बिल्कुल सुरक्षित रहेंगे. बैंकों में इंश्योरेंस कवर जो पहले एक लाख रुपये था उसे बढ़ाकर पांच लाख रुपये कर दिया गया है.

बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारी मतों से मोदी सरकार बनी है. जनता ने विकास के लिए हमें वोट दिया है, हमारा लक्ष देश की सेवा करना, ये बजट देश की उम्मीदों को पूरा करने वाला है. ये नए दशक का पहला आम बजट है. देश हमारी आर्थिक नीति पर भरोसा करे, GST से टैक्स देने वाले 60 लाख लोग बढ़े, इसके साथ ही कम GST से हर परिवार को 4% की बचत भी हो रही है. महंगाई को काबू करने में मोदी सरकार सफल रही, हम दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं.

इस बजट में ऊर्जा क्षेत्र के लिए 22 हजार करोड़ रुपए का आवंटन किया है. आने वाले समय में देशभर में प्री पेड मीटर लगाए जाएंगे. इन स्मार्ट मीटरों में रेट चुनने और बिजली कंपनी को चुनने का विकल्प होगा. सीतारमण ने कहा कि मैं सभी राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों से अगले तीन वर्षों में पुराने मीटरों को बदलकर प्री पेड स्मार्ट मीटरों को लगवाने की गुजारिश कर रही हूं. सरकार का ये कदम सबको बिजली देने की दिशा में लिया गया एक बड़ा फैसला है. 22 हजार करोड़ रुपये पावर और अक्षय ऊर्जा के लिए प्रस्तावित किए जा रहे हैं.

वर्तमान में हर सेक्टर को सहलाते हुए ध्यान भविष्य पर भी केंद्रित रहा है. बजट में स्वास्थ्य, शिक्षा, खेती, सुरक्षा जैसे मुद्दों पर विशेष ध्यान दिया गया है. आइये जानते हैं वित्त मंत्री ने और क्या क्या ऐलान किये.-

  1. देश में 284 अरब डॉलर का विदेशी निवेश आया
  2. 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी होगी, बजट का फोकस गांव, गरीब और किसानों पर है.
  3. फसल योजना में 6.11 करोड़ किसानों को फायदा हुआ.
  4. अब अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाएगी सरकार, मोदी सरकार की कुसुम योजना किसानों के लिए.
  5. बंजर जमीन पर सोलर सिस्टम लगाएगी सरकार, किसान इस बिजली को बेच भी सकेगा, किसानों के लिए वेयर हॉउस भी बनाया जायेगा.
  6. किसानों के लिए नई हवाई योजना शुरू होगी
  7. सरकार किसान रेल चलाएगी, दूध, मांस, मछली की सप्लाई किसान रेल से होगी
  8. किसानों के कर्ज के लिए 15 लाख करोड़ रुपये
  9. 2025 तक पालतू पशुओं की बीमारी ख़त्म करेंगे
  10. मछली पालन के लिए सागर मित्र योजना शुरू हुई, 2023 तक 200 लाख टन मछली उत्पादन होगा
  11. आयुष्मान भारत में 20 हज़ार अस्पताल जुड़े हैं, 2025 तक टीबी से मुक्त होगा भारत
  12. इंद्रधनुष मिशन में 5 नए टीके बढ़ेंगे
  13. PM जन आरोग्य योजना के लिए 69 हज़ार करोड़
  14. स्वच्छ भारत मिशन के लिए 12 हज़ार 300 करोड़ रुपये
  15. जल जीवन मिशन के लिए 3.6 करोड़ रुपये
  16. ऑनलाइन डिग्री कोर्स की शुरुआत, फॉरेंसिक और पुलिस यूनिवेर्सिटी खोली जाएगी
  17. शिक्षा के लिए 99 हज़ार 300 करोड़
  18. कौशल विकास के लिए 3000 करोड़ रुपये
  19. जिला अस्पताल में मेडिकल कॉलेज खोले जायेंगे
  20. देश में 5 नए स्मार्ट सिटी बनाये जायेंगे
  21. गरीब छात्रों के लिए होगी ऑनलाइन एजुकेशन की सुविधा होगी
  22. 100 लाख करोड़ का नेशनल इंफ्राटेक्चर फंड
  23. दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे 2023 से शुरू होगी
  24. तेजस ट्रेनों की संख्या बढ़ेंगी, 550 रेलवे स्टेशनों पर वाईफाई की सुविधा होगी
  25. 2024 तक 100 नए हवाई अड्डे बनाये जायेंगे
  26. ऊर्जा सेक्टर के लिए 22 हज़ार करोड़
  27. ट्रांसपोर्ट के लिए 1.7 करोड़ रुपये
  28. पीपीपी मॉडल से 150 नई प्राइवेट ट्रेनें चलेंगी
  29. भारत नेट कार्यक्रम के जरिये देश का हर थाना और आंगनबाड़ी केंद्र डिजिटल होंगे
  30. बाल विवाह रोकने के लिए टास्क फ़ोर्स बनेगा
  31. देश में अब हाँथ से सीवर की सफाई नहीं होगी, इसके लिए तकनीक का प्रयोग होगा
  32. महिलाओं की स्कीम के लिए 28 हज़ार 600 करोड़
  33. SC और OBC के लिए 85 हज़ार करोड़ रुपये
  34. बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए 9500 करोड़
  35. आदिवासियों के लिए 53 हज़ार करोड़ रुपये
  36. रांची में आदिवासी म्यूज़ियम बनेगा
  37. टूरिज़्म के लिए 2500 करोड़ रुपये
  38. लदाख के विकास के लिए 5958 करोड़ रुपये
  39. जम्मू कश्मीर के विकास के लिए 30757 करोड़ रुपये
  40. 10 लाख से ज्यादा की आबादी वाले शहरों में हवा पर काम किया जायेगा
  41. स्वच्छ हवा के लिए इसके लिए 4400 करोड़ रुपये का बजट
  42. LIC में सरकार अपनी कुछ हिस्सेदारी बेचेगी
  43. 5 लाख तक की आमदनी पर कोई टैक्स नहीं देना होगा
  44. 5 से 7.5 लाख की आमदनी वालों को 10% टैक्स देना होगा
  45. 7.5 से 10 लाख की आमदनी वालों को 15% टैक्स देना होगा
  46. 10 से 12.5 लाख की आमदनी पर 20% टैक्स देना होगा
  47. 12.5 से 15 लाख तक 25% टैक्स देना होगा
  48. 15 लाख से ऊपर की आमदनी वालों को 30% टैक्स देना होगा
  49. कृषि और सिंचाई के लिए 1.2 लाख करोड़ रुपये
  50. 15 लाख किसानों को ग्रिड कनेक्टेड पंपसेट से जोड़ा जाएगा
  51. मिल्क प्रोसेंसिंग क्षमता को 08 मिलियन टन किया जायेगा
  52. सरकार 27 हजार किलोमीटर रेलवे ट्रैक का इलेक्ट्रिफिकेशन करेगी
  53. स्किल डेवलपमेंट के लिए 3000 करोड़ रुपये आवंटित

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *