चुनाव आयोग (Election Commission) ने किया 5 राज्यों में चुनाव की तारीखों का ऐलान..

दोस्तों चुनाव आयोग (Election Commission) ने 5 राज्यों में चुनाव की तारिखों का ऐलान कर दिया है..जिसमें यूपी, पंजाब ,उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर, विधानसभा चुनावों का ऐलन हो चुका है..औऱ इस ऐलान के साथ ही 5 राज्यों में चुनाव पर आचार संहिता भी लागू हो चुकी है..

यूपी में विधानसभा का कायर्काल 14 मई 2022 को पूरा हो रहा है..ऐसे में 14 मई से पहले हर हाल में विधानसभा और नई सरकार के गठन की प्रक्रिया पूरी भी होनी चाहिए..यूपी में 403 विधानसभा सीटें हैं..

5 राज्यों में 7 चरण में चुनाव होंगें..औऱ दूसरे फेस में पंजाब में चुनाव 21 जनवरी को जारी होगा..औऱ 28 जनवरी तक नामांकन कर सकेंगें..
औऱ 29 जनवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी..औऱ 31 जनवरी तक नाम वापस लिए जा सकेंगें..औऱ 10 मार्च तक चुनाव के नतीजे भी आ जाएंगें..

चुनाव आयोग (Election Commission) ने प्रेस कॅान्फ्रेंस में चुनावों औऱ उनके प्रबंधों के बारे में जानकारी देते हुए बताया है कि चुनाव कोरोना सावधानी में होगें..सारे उम्मीदवारों को आॅनलाइन नामांकन करने की सुविधा दी जाएगी..और 15 जनवरी तक कोई भी रैली, करने करने की कोई भी अनुमति नहीं होगी..अगर किसी भी पार्टी को अपना कोई भी प्रचार करना है तो वो सिर्फ डिजिटल तरीके से ही कर सकता है..

उत्तर प्रदेश में घमासान-

भारतीय जनता पार्टी गठबंधन के साथ 22 के चुनाव में उतर रही है..बीजेपी ने सत्ता बचाए रखने के लिए प्रधानमंत्री से लेकर अमित शाह और बीजेपी के सारे नेताओं ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है..और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जातीय आधार पर छोटे-छोटे दलों के साथ मिलकर इस बार 2022 के चुनाव में उतर रहें हैं..2022 के चुनाव में समाजवादी पार्टी के साथ उत्तर प्रदेश में आरएलडी, सुभासपा, प्रसपा, जनवादी पार्टी, महान दल सहित और बहुत सारे छोटे दलों के साथ गठबंधन किया है..

प्रियंका गांधी भी यूपी चुनाव में उतर रहीं हैं..प्रियंका गांधी इस बार महिला कार्ड खेल रही हैं..औऱ 40 फीसदी टिकट देने से लेकर उनके लिए तमाम घोषणाएं कर रखी हैं..और 2022 का चुनाव बसपा के साथ-साथ दलित राजनीति के लिए भी बहुत अहम माना जा रहा है..लेकिन बसपा सुप्रिमो मायावती ने किसी भी दल के साथ गठबंधन नहीं किया है..और 2007 की तरह ही मायावती ब्राह्मण औऱ दलित समीकरण बनाने में जुटी हैं..और इसके अलावा उत्तर प्रदेश में असुदुद्दीन ओवैसी मुस्लिम मतों के सहारे अपने पैर जमाने के लिए तैयार बैठें हैं..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *