दिल्ली की फैक्ट्री में लगी भीषण आग, 45 लोगों की मौत, कई घायल, मुआवजे का ऐलान

दिल्ली के रानी झांसी रोड पर स्थित अनाज मंडी इलाके की एक बिल्डींग में सुबह तड़के 5 बजे के करीब भीषण आग लग गई जिसमें अबतक 45 लोगों की मौत हो चुकी है. और कई घायलों को पास के अस्पताल पहुँचाया गया है.

delhi fire in anaz mandi factory building 45 killed many injured
फोटो: ANI- delhi fire in anaz mandi factory building 45 killed many injured

संकरी गलियों में बनी ये इमारत पैकेजिंग और बैग बनाने वाली फैक्ट्री है. जो अवैध रूप से चल रही थी. इस फैक्ट्री की न तो कोई परमीशन थी और न ही कोई एनओसी, 6 मंजिला फैक्ट्री में फायर के भी कोई इंतज़ाम नहीं थे. आग लगने की वजह शार्ट सर्किट बताई जा रही है. आग की सूचना मिलते ही दमकल की 30 गाड़ियां भेजी गईं. मगर वहां की गलियां इतनी छोटी थीं की दमकल की गाड़ियां गली में जा ही नहीं पाईं.

-----

दमकल विभाग के मुताबिक फैक्ट्री में बैग्स, बॉटल और अन्य सामान रखा हुआ था. इस वजह से आग तेजी से फैली साथ ही वहां गलियां भी काफी संकरी हैं. ऐसे में दमकल विभाग की गाड़ियों को घटनास्थल पर पहुंचने में समय लग गया. जिससे मौतों की संख्या बढ़ गई. ये अवैध फैक्ट्री घनी आबादी वाले आवासीय इलाके में बनी हुई है.

गंभीर रूप से झुलसे लोगों को दिल्ली के लेडी हार्डिंग, सफदरजंग और एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. कहा जा रहा है कि मृतकों की संख्या अभी और बढ़ सकती है. मरने वालों में ज्यादातर बिहार के रहने वाले मजदूर बताये जा रहे हैं.

इस बड़े अग्निकांड के लिए फैक्ट्री मालिक के खिलाफ सदर बाजार थाना पुलिस ने लापरवाही का मुकदमा दर्ज कर लिया है. इसकी जांच को क्राइम ब्रांच को सौंपा गया है. बिल्डिंग का मालिक दिल्ली के सदर बाजार का रहने वाला है. जो घटना के बाद से फरार हो गया है. उसकी तलाश जारी है. लेकिन पुलिस ने बिल्डिंग मालिक के भाई को हिरासत में ले लिया है.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस अग्निकांड पर दुःख जताते हुए मरने वालों के परिजनों को 10-10 लाख और घायलों को 1 लाख रुपये देने का ऐलान किया है. साथ ही घायलों का इलाज भी राज्य सरकार करवाएगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आग लगने की इस बड़ी घटना को बेहद भयानक बताया है. जान गंवाने वाले लोगों के परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं, आग में झुलसे लोगों के तेजी से ठीक होने की कामना करता हूं. साथ ही पीएमओ की तरफ से भी मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख और घायलों को 50 हज़ार रुपये देने का ऐलान किया है.

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने घटना को दुखद बताते हुए कहा कि मृतकों के परिजनों को पार्टी की तरफ से 5-5 लाख रुपये और घायलों को 25 हजार रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी.