crossorigin="anonymous"> सुनो मिस्टर स्वास्थ्य मंत्री आपको देश कभी माफ नहीं करेगा : संपादकीय - Ulta Chasma Uc

सुनो मिस्टर स्वास्थ्य मंत्री आपको देश कभी माफ नहीं करेगा : संपादकीय

बंगाल के लिए देश को श्मसान बनाकर नेताओं को चैन मिल गया है.. रैलियों के रिजल्ट के तौरपर देश में मचे मातम की सच्चाई..हिंदुस्तान के न्यूज चैनलों के एग्जिट पोल में बीजेपी हार रही है..और कोरोना की काउंटिंग में देश हार गया है..हिंदुस्तान में अब तक 2 लाख से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं..भारत दुनिया में सबसे ज्यादा कोरोना से मौतों वाले देशों में चौथे नंबर पर है.. एक एक दिन में 3-3 हजार लोग मर रहे हैं..इतिहास में किसी चुनाव के बाद पहली बार ऐसा है कि देश की जनता को ना तो ममता की जीत से खुशी है..और ना ही मोदी की जीत से..पहन लो जीत की मालाएं..अब बना लो मुर्दों की सरकार..अब टिका लो लाशों के ढेर पर सिंहासन..

     देश में कोरोना क्यों फैला..जिन्होंने फैलाया क्या उन पर कोई कार्रवाई होगी..क्या हिंदुस्तान के भीतर कोई स्वास्थ्य मंत्री है..क्या हिंदुंस्तान में कोई राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री है जो कोरोना फैलाने वालों की जिम्मेदारी तय कर सके..देखिए साहब मैं खरा खरा कहती हूं..बुरा लगता है..तो लगे..मेरे लाखों देशवासियों की जान से ज्यादा..बड़ी इज्जत नेताओं की नहीं है..एक बात बिल्कुल साफ समझ लीजिए देश में कोरोना चुनावी रैलियों से फैला है..और चुनावी रैलियां की हैं प्रधानमंत्री  श्री नरेंद्र मोदी..गृह मंत्री श्री अमित शाह जी ने.. और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने..इनको कोरोना फैलाने के लिए सपोर्ट किया..देश के स्वास्थय मंत्री हर्षवर्धन ने और भारत के चुनाव आयोग ने..बंगाल समेत 5 राज्यों में प्रधानमंत्री और गृहमंत्री रैलियां करते रहे..कोरोना फैलाते रहे..हिंदुस्तान के स्वास्थ्य मंत्री ताली बजाते रहे..भीड़ जुटाने के लिए ट्विटर पर डुगडुगी बजाते रहे..भाई लोग आओ..आओ...तमाशा घुसकर देखने जाओ..कोरोना घर लेकर जाओ..फिर पूरा घर मर जाओ..

   

देश के स्वास्थय मंत्री अब बड़े ज्ञान चंद बने घूम रहे हैं..मास्क का..दो गज दूरी का..भीड़ ना लगाने का ज्ञान दे रहे हैं..जब देश में कोरोना फैलाया जा रहा था तब क्या इनका ज्ञान घास चरने चला गया था..उनकी शकल ध्यान से देख लीजिए इनको पहचान लीजिए..ऐसे हैं मेरे हिंदुस्तान के स्वास्थ्य मंत्री..ये पहले रैलियों की तान पर खुद नाच रहे थे..जनता को नचा रहे थे अब देखिए कैसे मासूम बन रहे हैं..इनको पहचानिए रैली वाले गंगाधर भी यही हैं..और स्वास्थ्य मंत्री वाले शक्तिमान भी यही हैं..यही कोरोना बंटवाते हैं..और यही कोरोना पर ज्ञान झाड़ते हैं..

झूठ नहीं कह रही हूं..इनके कुछ ट्विट दिखाती हूं..मिस्टर स्वास्थ्य मंत्री जो अब ज्ञानी बने घूम रहे हैं..ये रैलियों पर ताली बजा रहे थे..लिखते हैं मोदी जी की बर्धमान रैली में जनता का जोश और उत्साह इस बात का संकेत है कि अब बंगाल की प्रबुद्ध जनता मोदी जी के नेतृत्व पर भरोसा कर, सत्ता भाजपा को सौंपने का मन बना चुकी है..दूसरा देखिए यहां भी कोरोना वाली भीड़ पर कैसे प्रसन्न हो रहे हैं..ऐसे और 20सीयों ट्विट हैं..इनको कोई स्वास्थ्य मंत्री कहेगा..ये इन जैसे स्वास्थ्य मंत्रियों के हवाले हिंदुस्तान की जनता का स्वास्थय है..अरे इन्होंने तो अपने रजिस्टर से कोरोना का नाम कब का काट दिया था..

-----

देखिए कितने मासूम बन रहे हैं इनकी मासूमियत पर कोई भी फिदा हो जाए…देश को मास्क ज्ञान दे रहे हैं..दो गज की दूरी का चुटकुला सुना रहे हैं..दोस्तों आपके आसपास या आपका पड़ोसी या आपका दोस्त अब तक कोई ना कोई कोरोना मर तो जरूर गया होगा..तो इसलिए इस चुटकुले पर आप तालीबजाकर हंस तो नहीं सकते हैं.. इसलिए छाती पीटकर रोईये कि आपको स्वास्थय मंत्री के तौर पर एक पपेट मिला है..जो अपने मालिकों का गुलाम है..जिसने दो कौड़ी की राजनीति के चक्कर में हिंदुस्तान का स्वास्थय सूली पर चढ़ा दिया है…सुनो मिस्टर हर्षवर्धन देश आपको कभी माफ नहीं करेगा..

-----

DISCLAMER- लेख में प्रस्तुत तथ्य/विचार लेखक के अपने हैं. किसी तथ्य के लिए ULTA CHASMA UC उत्तरदायी नहीं है. लेखक एक रिपोर्टर हैं. लेख में अपने समाजिक अनुभव से सीखे गए व्यहवार और लोक भाषा का इस्तेमाल किया है. लेखक का मक्सद किसी व्यक्ति समाज धर्म या सरकार की धवि को धूमिल करना नहीं है. लेख के माध्यम से समाज में सुधार और पारदर्शिता लाना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *