आपके शरीर में छिपकर बैठा है कोरोना, धीरे धीरे बढ़ा रहा खतरा, जानें ऐसा क्यों ?

कोरोना वायरस कितना खतरनाक है ये आप अबतक समझ ही चुके होंगे. इस वायरस से अगर बचना है तो सबसे बड़ी बात ये है कि लॉकडाउन का गंभीरता से पालन करें. क्युकी मरीजों की टेस्टिंग में सामने आया है कि करीब 70 फीसद कोरोना मरीजों में इसके कोई लक्षण सामने नहीं आते.

corona hide in your body and put you in danger
corona hide in your body and put you in danger

मतलब आपको कोरोना हो भी जायेगा और पता भी नहीं चलेगा. एसजीपीजीआइ के गैस्ट्रो मेडिसिन के प्रोफेसर डॉ. उदय घोषाल ने बताया कि सिर्फ 30 फीसद मरीजों में ही खांसी, जुकाम, बुखार, सांस व पेट संबंधी समस्याएं देखी गईं हैं. ऐसे में 70 फीसद बिना लक्षण वाले मरीज अनजाने में अपने परिवार और मित्रों को संक्रमित कर देते हैं. कोई लक्षण न मिलने से ये साफ पता चलता है कि कोरोना आपके शरीर में खामोशी से छिपकर वार कर रहा है और परिवार और सहित आपको खतरे में डाल सकता है.

-----

अगर आपके परिवार के किसी सदस्य को सांस फूलने, खांसी, जुकाम, छींक जैसे लक्षण हैं तो सबसे पहले उसे मास्क लगाने को कहें, आप भी लगाएं. कागज पर ये वायरस 3-4 घंटे से ज्यादा नहीं रहता. इसलिए किसी वस्तु को छुएं तो हाथ साबुन से धुलने के पहले मुंह, नाक और आंख में न लगाएं. अगर आपको स्वस्थ में कोई भी दिक्कत हो तो अपने आपको सबसे अलग कर लें.

देश में इस वायरस से बचाव के लिए काफी बड़े लेवल पर काम किया जा रहा है. लेकिन ये नहीं कहा जा सकता कि कोरोना वायरस खत्म कब होगा. कोरोना वायरस लगातार अपना रूप बदल रहा है. इस वायरस के लक्षण फ्लू से मिलते-जुलते हैं. संक्रमण में बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होती हैं.

कोरोना वायरस में कुल मिलाकर सात कोरोना वायरस हैं. ये हैं – SARS, MERS, SARS-CoV-2, HKU1, NL63, OC43 और 229E. इनमें सिर्फ SARS, MERS, SARS-CoV-2 ही खरनाक है. बाकी सामान्य जुकाम और फ्लू के कोरोना वायरस हैं.

कोरोना से बचने के उपाए-
  • अपने हांथों को 20 सेकेण्ड तक साबुन और गर्म पानी से धोएं, या सेनिटाइजर का प्रयोग करें
  • कहीं भी बाहर न जाएँ और हो सके तो घर से ही अपना काम करें
  • खांसते और छीकते समय रुमाल या टिशू पेपर का स्तेमाल करें
  • बिना हाँथ धोए अपनी आँख, मुँह और नाक को न छुएं
  • जो भी लोग आपके घर में या परिवार में बीमार हैं उनके पास जाने से बचें, उनको सबसे अलग रखें
  • आपको थोड़ी-थोड़ी देर पर अपने हाथ धोने होंगे
  • अगर आपको अपनी तबियत खराब लग रही है तो घर पर रहें