सिद्धू को लगता है की ‘राहुल गाँधी’ चुनाव हार जायेंगे, खुद सभा में बोल दिया, देखें-

क्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिंह सिद्धू पहले कांग्रेस में थे फिर फुदक के बीजेपी में आ गए. अब फिर कांग्रेस में जा कर जन्म से कांग्रेसी हो गए. ऐसे नेताओं पर अब क्या भरोसा किया जा सकता है. रविवार को उन्होंने कहा कि लोगों को यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से राष्ट्रवाद सीखना चाहिए.

congress-leader-navjot-sidhdhu-speakes rahul gandhi will lose loksabha chunaw
congress-leader-navjot-sidhdhu-speakes rahul gandhi will lose loksabha chunaw

मगर उनको अभी तक यही नहीं पता है की राहुल गाँधी जीतेंगे या हारेंगे. उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी से लोकसभा चुनाव हार जाते हैं तो वे राजनीति छोड़ देंगे. अब इसका क्या मतलब है. यानी सिद्धू को लगता है की राहुल हार भी सकते हैं. वहीँ बीजेपी के आरोप की 70 साल में कांग्रेस ने कुछ नहीं किया उस पर सिद्धू ने कहा कि इन सालों में सबसे ज्यादा समय कांग्रेस का ही शासन रहा था. इस दौरान देश ने सुई से लेकर विमान तक सब कुछ बनाया.

-----

नवजोत सिंह सिद्धू रायबरेली में यहां की सांसद और यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी के लिए वोट मांगने पहुंचे थे. सिद्धू ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि पहले चौकीदार रात को बोलते थे जागते रहो, अब जो चौकीदार है वो सरकारी बैंकों का पैसा अमीरों को देकर कहता है भागते रहो. इनका क्या है. बात करोड़ों की, दुकान पकौड़ों की और संगत भगोड़ों की है. इनसे पूछो चौकीदार भईया जब नीरव मोदी भागा था, ललित मोदी भागा था तो ड्यूटी पर कौन चौकीदार था ?

बीजेपी प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह को निशाने पर लेते हुए सिद्धू ने कहा ये जब सोनिया गांधी का नहीं हुआ तो रायबरेली की जनता का क्या होगा. उन्होंने क्रिकेट की भाषा में कहा, अगर सोनिया गांधी को दो लाख के अंतर से जिताया तो यह दुक्की की तरह की शॉट होगी और चार लाख के मार्जिन से जीत चौका होगा लेकिन पांच लाख से अधिक की जीत सीधा छक्का होगा और रायबरेली की जनता को यह शॉट जरूर खेलना है.