कर्नाटक: बीजेपी के इस मास्टर माइंड ने कांग्रेस में लगवाई इस्तीफ़े की झड़ी

एक तरफ जहां यूपी में अखिलेश और माया ने चुनावी माहौल गर्म कर रखा है. वहीं बीजेपी ने भी एक बड़ा दांव खेल दिया है. जिसमें कांग्रेस उलझ गई है. ये बीजेपी की चाल भी हो सकती है. ताकि कांग्रेस चुनाव की तैयारी न कर पाए और इसी में ही उलझी रहे.

कर्नाटक में कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन की सरकार है. मगर अब सरकार से दो निर्दलीय विधायकों ने अपना समर्थन वापस ले लिया है. एच नागेश (निर्दलीय) और आर शंकर (केपीजेपी) ने कर्नाटक के राज्यपाल वाजूभाई वाला को पत्र लिखकर अपना समर्थन वापस लेने को कहा है. इस पत्र के सामने आते ही राजनीतिक पारा चढ़ गया है. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के और 6 नाराज विधायक कल इस्तीफा दे सकते हैं.

सीटों का समीकरण

224 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 104, कांग्रेस के 79, जद-एस के 37, बसपा, केपीजेपी के एक-एक और एक निर्दलीय विधायक हैं. सरकार बनाने पर बहुमत के लिए 113 विधायकों की जरूरत है जबकि कांग्रेस-जेडीएस और एक बसपा मिलाकर 117 विधायक हैं. अब दो विधायकों के समर्थन वापस लेने पर 115 ही बचते हैं. अगर कल 6 और लोग इस्तीफ़े दे दें तो कांग्रेस सरकार के पास सिर्फ 109 विधायक ही बचेंगे. और सरकार भी जा सकती है.

एचडी कुमार स्वामी मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही लगातार बीजेपी पर राज्य सरकार को गिराने का षडयंत्र रचने का आरोप लगाते रहे हैं. मगर मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने अपनी सरकार को सुरक्षित बताते हुए कहा कि मुंबई के होटल में मौजूद विधायक तक मीडिया नहीं पहुंच पा रही है, वे मेरे संपर्क में हैं. मैं सबके संपर्क में हूं, सबसे बात कर रहा हूं, वे वापस आएंगे. हमारा गठबंधन बिल्कुल सुरक्षित है. मैं पहले भी चिंता मुक्त था, अब भी हूं. चिंता मत कीजिए, खुश रहिए.

दो दिन में गिर जाएगी सरकार

महाराष्ट्र से बीजेपी के जल संरक्षण, प्रोटोकॉल और ओबीसी मंत्री राम शिंदे ने कांग्रेस पर तीखी टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि, कर्नाटक की जनता ने बीजेपी के समर्थन में जनादेश दिया था, लेकिन हम कुछ अंकों से कम रह गये. जिससे सरकार नहीं बना पाए थे. कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन अस्थिर है, ऐसे में संकेत हैं कि (कुमारस्वामी) सरकार अगले दो दिन में गिर जाएगी.

गुरुग्राम के नजदीक तावड़ू स्थित आईटीसी ग्रैंड भारत होटल में कर्नाटक के 104 बीजेपी विधायकों को ठहराया गया है. वहीं, कर्नाटक के 10 नाराज कांग्रेस विधायकों के मुंबई के एक पांच सितारा होटल में होने की खबर है. अब ये माना जा रहा है कि कांग्रेस व जेडीएस के बागी विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं. मगर बीजेपी ने इससे साफ़ इनकार कर दिया है. बीजेपी का कहना है कि बीजेपी विधायकों को एकजुट करने के लिए उनको वहां रोका गया है.

कांग्रेस इनको मानती है मास्टर माइंड

कांग्रेस के नेता इस पूरे मामले का मास्टर माइंड बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा को मानते हैं. कांग्रेस के नेता जमीर अहमद राज्य सरकार को गिराने का आरोप सीधे बीजेपी पर ही लगा रहे हैं. बतादें ‘एच नागेश’ ने बीजेपी को समर्थन देने की घोषणा तक कर दी है.