UP में 30 जून तक नहीं कर सकेंगे ये काम, CM योगी ने दिए निर्देश

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार शाम अपने आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलाधिकारियों को कई निर्देश दिए हैं.

cm yogi says up border sealed and public meetings banned
cm yogi says up border sealed and public meetings banned

सीएम योगी ने कहा कि अगले दो महीने में पांच से दस लाख श्रमिकों के प्रदेश में पहुंचने की संभावना है. ऐसे में क्वारंटीन के लिए जिलों में शेल्टर होम बनाए जाएं. प्रदेश की सीमाएं सील रहेंगी और 30 जून तक सार्वजनिक सभाओं पर रोक रहेगी. रमजान में कहीं भी भीड़ एकत्रित न होने और अन्य किसी भी प्रकार की नई गतिविधि न करने के भी निर्देश दिए हैं.

-----

उन्होंने सभी डीएम को अपने जिलों में मौजूद दूसरे राज्यों के श्रमिकों की सूची अपर मुख्य सचिव गृह को देने को कहा है. इसके साथ ही क्वारंटीन से भागने वालों पर मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं. गोकशी के मामलों को सख्ती से रोकने और इसमें लिप्त लोगों के खिलाफ एनएसए लगाने को कहा है. लॉकडाउन में अच्छा कार्य किया गया है लेकिन काफी सावधानी बरतने की जरूरत है.

प्रदेश में कोरोना संक्रमण तब्लीगी जमात के कारण ज्यादा फैला है लिहाजा जमात से जुड़े लोगों को चिह्नित कर उन्हें क्वारंटीन कर उनकी टेस्टिंग कराएं. सभी डीएम शासन की गाइडलाइन के अनुसार ही निर्णय लें. अगर किसी भी जिले में एक भी केस होगा तो वहां लॉकडाउन खोलना मुश्किल होगा. सीएम योगी ने आईटी सेक्टर में सोशल डिस्टेंसिंग कर काम को आगे बढ़ाने पर जोर देते हुए बालू, मौरंग, गिट्टी आदि के खनन को धीरे-धीरे शुरू करने को कहा है.

यूपी में अब संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1694 पहुंच गई है. इनमें से 1370 एक्टिव केस हैं. 226 मरीज ठीक हुए हैं, जबकि 25 लोगों की मौत हुई है.  शुक्रवार को 139 नए मरीज मिले थे. यूपी में सबसे ज्यादा 346 केस आगरा में हैं. लखनऊ में 174 केस हैं. कानपुर नगर में 125 केस हैं. सहारनपुर में 123 केस हैं. गौतमबुद्ध नगर में 112 केस हैं और मुरादाबाद में 104 केस हैं. बाकी जिलों में 100 से कम केस हैं.