CM योगी ने मेधावी छात्रों को किया सम्मानित, कहा- शिक्षा का अच्छा माहौल देने के लिए प्रतिबद्ध हैं

लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित एक कार्यक्रम में आज सीएम योगी ने माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा में प्रदेश स्तर पर प्रथम दस स्थान प्राप्त करने और जिलों में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले मेधावियों को सम्मानित किया है.

CM Yogi honored brilliant students in lucknow
CM Yogi honored brilliant students in lucknow

कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, गन्ना मंत्री सुरेश राणा, जलशक्ति मंत्री डॉ. महेन्द्र सिंह, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक, नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन, माध्यमिक शिक्षा राज्यमंत्री गुलाब देवी सहित अन्य नेता लोग पहुंचे हैं. इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दुनिया में सबसे युवा देश भारत है और देश में सबसे युवा राज्य उत्तर प्रदश है.

-----

उन्होंने कहा कि जब मैं मुख्यमंत्री बना तब प्रदेश की कानून व्यवस्था बहुत खराब थी. शिक्षा व्यवस्था भी ठीक नहीं थी. उसके बाद हमने मेहनत करना शुरू किया और अब इसका परिणाम भी सामने आ रहा है. हर क्षेत्र में सुधार लाया गया है. उसी का नतीजा है कि अब शिक्षा का पूरा टाइम टेबल बनाया गया है. अब एक महीने में परीक्षा हो जाती है और पंद्रह दिनों में परिणाम आ जाते हैं. जबकि पहले जनवरी फरवरी से प्रक्रिया शुरू होती थी और जुलाई तक चलती रहती थी.

हमने गरीब छात्रों को न केवल छात्रवृति देने का प्रबंध किया बल्कि उसे समय पर उपलब्ध भी कराया ताकि उन्हें उसका लाभ मिल सके. छात्रों को शिक्षा का अच्छा माहौल देने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं. जिन बच्चों को कम अंक मिले हैं वो निराश न हों, बल्कि और मेहनत करें. मेरा पूरा भरोसा है उन्हें एक दिन जरूर कामयाबी मिलेगी.

वहीँ कार्यक्रम में डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने मेघावी छात्रों के माता-पिता से अनुरोध किया कि वे छात्र-छात्राओं पर उम्मीदों का बोझ न डालें. बच्चे को तय करने दें कि वे क्या बनना चाहता है. इसके साथ ही उन्होंने शिक्षकों से भी अनुशासित होने का आग्रह किया है.