UP में कोरोना का कहर जारी, लखनऊ टॉप पर, CM योगी ने दिए सतर्कता बरतने के निर्देश, जानें क्या है स्थिति

कोरोना के हर रोज बढ़ते केस आम जनता को डरने पर मजबूर कर रहे हैं. स्वास्थ्‍य विशेषज्ञों की माने तो आने वाले समय में यूपी, बिहार, झारखंड में लोगों को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है.

cm yogi directs authorities to work hard against covid-19
cm yogi directs authorities to work hard against covid-19

उत्तर प्रदेश अब पीक की ओर बढ़ रहा है. यूपी सरकार के मंत्री भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं, अब तक दो मंत्रियों की मौत हो चुकी है. आज पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी को भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के मद्देनजर कानपुर नगर, लखनऊ, गोरखपुर, प्रयागराज, वाराणसी और बलिया में विशेष सतर्कता बरतने और अधिक से अधिक टेस्ट कराने के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने कहा कि बेहतर सर्विलांस ही मृत्युदर को नियंत्रित कर सकता है. इसलिए सभी जिलों में इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के कार्यों की नियमित मॉनिटरिंग की जाए. इसके साथ ही डोर-टू-डोर सर्वे कार्य में तेजी लाने के लिए जरूरत के हिसाब से अतिरिक्त टीमें लगाने के निर्देश दिए हैं. और कहा है कि प्रदेश में प्रतिदिन 85 हजार से अधिक रैपिड एंटीजन टेस्ट और 45 हजार से अधिक आरटीपीसीआर टेस्ट अवश्य किए जाएं.

उत्तर प्रदेश में अबतक 47,96,488 टेस्ट किये जा चुके हैं. जिसमें कुल 1,97,388 लोगों में कोरोना पाया गया है. राहत की बात ये है कि इसमें से 1,44,754 मरीज ठीक हो कर घर जा चुके हैं. सिर्फ 49,575 मरीज ही अस्पतालों में भर्ती हैं जिनका इलाज चल रहा है. वहीँ उत्तर प्रदेश में अबतक 3059 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है.

उत्तर प्रदेश में सबसे आगे राजधानी लखनऊ चल रहा है. यहाँ कोरोना मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है. यहाँ अबतक कुल 23,091 मरीज हो गए हैं, इसमें से 16,128 मरीज ठीक हो चुके हैं. और 6,660 मरीज अभी एक्टिव हैं. लखनऊ में 303 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *