रायबरेली पहुंचे CM योगी, कहा- हमें भारत को कोने-कोने बांटने की आदत नहीं, लेकिन वे टुकड़े-टुकड़े चाहते हैं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आज रायबरेली दौरा है. और दोपहर लगभग एक बजे सीएम योगी हेलीकाप्टर से रायबरेली के पुलिस लाइंस पहुंच चुके हैं. वहां से वे सीधे शहर के नेहरू नगर चौक पर राना बेनी माधव सिंंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया.

cm yogi adityanath visit raibareilly
cm yogi adityanath visit raibareilly

माल्यार्पण के बाद सीएम योगी ने शहीद चौक पर पुष्पांजलि अर्पित की. इस दौरान उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 का समाप्त होना और उसके बाद यहां राना बेनी माधव बक्श सिंह के भाव समर्पण समारोह में इकट्ठा होना एक महत्वपूर्ण मौका है. रवींद्र नाथ टैगोर ने कहा था कि इस युग का सबसे बड़ा धर्म, राष्ट्र धर्म है. लेकिन एक परिवार उनकी बात कर रहा है, जिन्हें तिरंगे से परहेज है.

-----

उन्होंने कहा कि हम लोग शुरू से कहते रहे हैं कि एक देश में दो प्रधान दो विधान नहीं चलेगा. इसके बाद सीएम योगी फीरोज गांधी आडिटोरियम में भाव समर्पण समारोह में शिरकत करने पहुंचे. इस दौरान उन्होंने कहा कि हमने भारत को कोने-कोने बांटने की आदत नहीं डाली है. लेकिन वे टुकड़े-टुकड़े चाहते हैं. 52-53 वर्ष की आयु में राना बेनी माधव बक्श सिंह ने अंग्रेजों को यहां घुसने नहीं दिया था.

उन्होंने कहा कि 1857 का प्रथम स्वतंत्रता समर जो पूरे देश के अंदर एक सामूहिक ताकत के साथ अलग-अलग क्षेत्रों में प्रारम्भ हुआ था, इस क्षेत्र में उसका नेतृत्व करने वाले महापुरुष ‘राना बेनी माधव बख्श सिंह’ जी की 215वीं जयंती के अवसर पर उन्हें प्रदेश की जनता की ओर से कोटि-कोटि नमन करता हूं. जिन महापुरुषों और स्वतंत्रता सेनानियों ने इस देश की आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया था, उनके प्रति श्रद्धा और सम्मान का भाव हमारी वर्तमान पीढ़ी को आगे बढ़ने की प्रेरणा प्रदान करता है.

हम एक भारत श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना लेकर आगे चल रहे हैं. जवान के आश्रित को एक सरकारी नौकरी मिलेगी. 25 लाख की आर्थिक सहायता और उसके क्षेत्र का उसके नाम पर नामकरण होगा. ये हम 2017 से कर रहे हैं. अब इसके बाद आरक्षित कार्यक्रम होगा फिर सीएम योगी पुलिस लाइंस रायबरेली से प्रस्थान करेंगे.

जिला अधिकारी नेहा शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन को लेकर सुरक्षा सहित अन्य सभी तैयारियों को पूरा करा दिया गया है. सभी जरूरी स्थानों पर पुलिस बल तैनात किया गया है. आईजी के साथ सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया गया है. सभी अधिकारियों को जिम्मेदारी दे दी गई है.

वहीं सीएम योगी से पहले ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अपनी मां और पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली पहुंच चुकी हैं. वे सबसे पहले सदर से विधायक अदिति सिंह के घर पहुंची और हाल ही में हुई उनके पिता की मौत पर उन्हें सांत्वना दी. बताया जा रहा है कि प्रियंका लालगंज स्थित माडर्न कोच फैक्टरी जाएंगी, जहां आंदोलनकारी कर्मचारियों से मुलाकात करेंगी.

जानकारों का कहना है कि बीजेपी और कांग्रेस फिलहाल रायबरेली की ज्यादा से ज्यादा जनता को अपनी तरफ करना चाहती है. इसलिए आने वाले समय में इस तरह की और गतिविधियां बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही हैं.