7 दिनों में सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा इन बड़े मामलों पर फैसला, राम जन्मभूमि मामले पर सबकी नज़र

आने वाले एक हफ्ते यानी 7 दिनों में सुप्रीम कोर्ट 5 बड़े मामलों में फैसले करने वाला है. और इसके बाद 17 नवंबर को भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई रिटायर हो जाएंगे.

chief justice verdict ram mandir case
chief justice verdict ram mandir case

रंजन गोगोई रिटायर होने से पहले कुछ खास मामलों में निर्णय सुनाएंगे जिसमें राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद, राफेल विमान घोटाले में शीर्ष अदालत के निर्णय के लिए दाखिल पुनर्विचार याचिका, सबरीमाला मंदिर जैसे मामले शामिल हैं. बतादें कि दीपावली की छुट्टियों के बाद सोमवार को कोर्ट फिर से खुल गया है. और रंजन गोगोई के पास हफ्ते भर से भी कम समय ही बचा है.

दरअसल 11 और 12 नवंबर को कोर्ट फिर से बंद रहेगा तो उसके बाद उनके पास 4 दिन का समय शेष रह जाएगा. और 17 को वो रिटायर हो रहे हैं ऐसे में उस दिन कोई फैसला सुनाएं ऐसा संभव नहीं होगा. उस दिन रिटायरमेंट की औपचारिकताएं निभाई जाएंगी. लेकिन सबकी नजरें सिर्फ राममंदिर पर ही लगी हुईं हैं.

CJI की अध्यक्षता वाली 5 न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने राम जन्मभूमि मामले में 40 दिवसीय सुनवाई के समापन के बाद 16 अक्टूबर को फैसला सुरक्षित रखा था.

CJI की अध्यक्षता में पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ को सबरीमाला मंदिर पर भी फैसला सुनाना है. जिसमें सभी उम्र की महिलाओं को केरल के सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी. शीर्ष अदालत ने 6 फरवरी को 65 याचिकाओं पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था.

CJI की अध्यक्षता वाली तीन-न्यायाधीशों की पीठ के पास राफेल विमान घोटाले का हाई-वोल्टेज केस भी लंबित है. इस पर भी निर्णय इसी महीने दिया जाना है. अदालत ने 10 मई को याचिकाओं पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था.

राहुल गांधी का भी एक मामला लंबित पड़ा है जिसमें राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चौकीदार चोर है कहकर संबोधित किया था. इस मामले में कोर्ट में केस दायर किया गया था. जिसका फैसला सुनाया जाना है.

1,235 total views, 2 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *