मुलायम के पास हैं दो राजनीतिक पार्टियां, अखिलेश ने भी मान ली बात

Ulta Chasma Uc  : आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू (chandrababu naidu) 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए विपक्ष को एकजुट करने में लगे हुए हैं. ताकि बीजेपी को सत्ता से हटाया जा सके. जिसके लिए नायडू कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी (rahul gandhi) से भी मिल चुके हैं. वहीं सपा को भी अपने साथ जोड़ने के लिए उन्होंने गुरुवार को सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव (akhilesh yadav) के साथ भी बैठक की है. अखिलेश से मिलने के कुछ देर पहले ही नायडू मुलायम सिंह यादव (mulayam singh yadav) से भी मिले. तीनों नेताओं ने आपस में बातचीत हुई. ऐसे में इस बैठक के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं.

chandrababu naidu will meet akhilesh yadav and mulayam yadav
चंद्रबाबू नायडू ने की मुलायम और अखिलेश से मुलाकात

नेताजी के पास हैं दो पार्टियां

सूत्रों से पता चला की इस बैठक में दोनों नेताओं ने विपक्ष के महागठबंधन और बीजेपी के खिलाफ लोकसभा चुनाव की रणनीति के मुद्दे पर चर्चा की है. जिसमें अखिलेश ने अपने चाचा शिवपाल (shivpal) की पार्टी का जिक्र करते हुए कहा की नेताजी (मुलायम सिंह यादव) के पास तो दो पार्टियां हैं. एक समाजवादी पार्टी, और दूसरी चाचा शिवपाल यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया).

लेकिन यहाँ पर अखिलेश ने साफ़ कह दिया की नेताजी का पूरा समर्थन सपा को ही रहेगा. इससे पहले उन्होेंने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री पद पर जवाब देते हुए कहा था कि अभी उत्तर-प्रदेश में ही राजनीति करना चाहते हैं. उनकी प्रधानमंत्री बनने की कोई ख्वाहिश नहीं है.

-----
chandrababu naidu will meet akhilesh yadav and mulayam yadav
योगी सरकार पर साधा निशाना

योगी सरकार पर साधा निशाना

अखिलेश यादव ने पत्रकार प्रिया सहगल की दिल्ली में किताब विमोचन समारोह में कॉन्फ्रेंस में कहा कि बीजेपी राज तो लूट राज का पर्याय बन गया है. दीवाली से पहले ही उत्तर प्रदेश में खून की होली खेली जा रही है. प्रदेश की जनता को न तो पीएम मोदी सुरक्षा दे पा रहे हैं और न ही सीएम योगी. अखिलेश यादव ने राम मंदिर के बारे में बोलते हुए कहा, लोगों को संविधान और सुप्रीम कोर्ट पर पूरा भरोसा है. हमें सुप्रीम कोर्ट ने जो कहा है कि उन्हें मानना चाहिए. इसी से देश चलेगा, आगे बढ़ेगा.

-----

Web Title :  chandrababu naidu will meet akhilesh yadav and mulayam yadav

HINDI NEWS से जुड़े अपडेट और व्यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ FACEBOOK और TWITTER हैंडल के अलावा GOOGLE+ पर जुड़ें.