साल 2020 का पहला चंद्र ग्रहण आज, लेकिन इस वजह से नहीं लगेगा सूतक, जानें ग्रहण का समय

साल 2020 में साल का पहला चंद्रग्रहण आज 10 जनवरी को लगने जा रहा है. सबसे खास बात ये भारत के साथ साथ कई देशों में भी दिखाई देगा. आज पूर्णिमा को मांद्य चंद्र ग्रहण लगेगा.

chandra grahan 2020 today timing in india
chandra grahan 2020 today timing in india

माघ पूर्णिमा में चंद्रग्रहण होने से इस ग्रहण का सूतक नहीं रहेगा. इसका मतलब है कि आप ग्रहण काल में भी पूजा-पाठ जैसे कार्य कर सकते हैं. आज लगने वाला ग्रहण रात में 10.38 बजे से शुरू होगा और इसका मध्य 12.40 बजे होगा, इसका मोक्ष रात 2.42 बजे पर होगा. ये ग्रहण करीब 4 घंटे 50 मिनट का रहेगा. ये चंद्रग्रहण भारत समेत यूरोप, आस्ट्रेलिया, अमेरिका और अफ्रीका के कई हिस्सों में दिखाई देगा. हालांकि इसका कोई खास असर नहीं होने वाला है.

ये ग्रहण वैसा नहीं है, जिसे आप आसानी से देख सकते हैं. इसमें चंद्रमा घटता-बढ़ता नहीं दिखाई देगा, और चंद्रमा का कोई भी भाग ग्रहण ग्रस्त होता दिखाई नहीं देगा. ये माघ चंद्र ग्रहण है. माघ का अर्थ है न्यूनतम यानी मंद होने की क्रिया. इसमें सिर्फ चाँद के आगे धूल की एक परत-सी छा जाएगी. इस ग्रहण में चंद्रमा का करीब 90 प्रतिशत भाग धूसर छाया में आ जाएगा. धूसर छाया यानी मटमैली छाया जैसा, हल्की सी धूल-धूल वाली छाया.

इस प्रभाव को भी बहुत कम ही लोग समझ पाएंगे. इसकी वजह से ज्योतिषीय मत में भी चंद्र ग्रहण का कोई असर नहीं होगा. 2020 से पहले ऐसा चंद्र ग्रहण 11 फरवरी 2017 को दिखा था.

माना जाता है कि ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को घर के बाहर नहीं निकलना चाहिए. कोई भी काम शुरु करने की भी मनाही होती है. इस दौरान खाना बनाने से भी बचना चाहिए. ग्रहण के दौरान नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव अधिक होता है, इसलिए हमेशा इस दौरान ईश्वर का ध्यान करना चाहिए.

माघ चंद्र ग्रहण में चंद्र पृथ्वी और सूर्य एक ऐसी लाइन में रहते हैं, जहां से पृथ्वी की हल्की सी छाया चंद्र पर पड़ती है. ये तीनों ग्रह एक सीधी लाइन में नहीं होते हैं. इस वजह से माघ चंद्र ग्रहण की स्थिति बनती है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *