लखनऊ में लाॅन्च हुआ ‘चलो ऐप’, आसान हुई यात्रा, यहाँ से डाउनलोड कर ऐसे करें इस्तेमाल-

आपके सफर को आसान बनाने के लिए लखनऊ की माननीय महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया ने लखनऊ वासियों के लिए चलो ऐप लॉन्च किया है. इसकी ख़ासियत जानकार आप भी हैरान रह जायेंगे. ये ऐप आपका कम से कम 40 मिनट बचा सकता है और बहुत ही आसानी से आप लखनऊ में कहीं भी सफर कर सकते हैं. आइये जानते हैं इसके बारे में-

chalo App Launches in Lucknow
chalo App Launches in Lucknow

चलो, एक नि:शुल्क मोबाइल ऐप है, जो सार्वजनिक परिवहन में क्रांति लेकर आया है और रोजाना यात्रा कर रहे लोगों की सहायता करता है. इस ऐप से लाखों लोग जो बस से यात्रा कर रहे हैं. उनका प्रतिदिन 40 मिनट तक समय बचा सकता है. समय के साथ साथ आप इस ऐप के माध्यम से सबसे सस्ते यात्रा का विकल्प ढूंढकर पैसे भी बचा सकते हैं.

चलो ऐप के लाभ-
  1. अपनी बस के आने का समय पता लगाना, ताकि उसी के अनुसार बस स्टाॅप पर पहुँचें.
  2. मैप पर अपनी बस की लाइव जीपीएस स्थिति को ट्रैक करना. की बस अभी कहाँ पर पहुंची है.
  3. सबसे सस्ते और सबसे तेज यात्रा विकल्प खोजना, जिसमें उनके गंतव्य के लिये बस के सारे मार्ग होंगे
  4. एक मल्टी-मॉडल ट्रिप प्लानर की सहायता से डोर-टू-डोर ट्रिप की योजना
  5. इमरजेंसी एसओएस के ज़रिए दोस्तों एवं परिवार के साथ लाइव ट्रिप शेयरिंग जैसी खूबियों के साथ सुरक्षापूर्वक यात्रा
  6. सबसे नजदीकी बस स्टाॅप को लोकेट करना. ताकि आपको बस के लिए कहीं दूर न जाना पड़े.

चलो ऐप को लॉन्च कर लखनऊ यूपी का पहला ऐसा शहर बन गया है, जहां यात्रियों को परिवहन का स्मार्ट विकल्प दिया जा रहा है, जो दुनिया के प्रमुख शहरों के अनुसार है. चलो ऐप से न केवल बस यात्रियों का मूल्यवान समय बचेगा, बल्कि सार्वजनिक परिवहन के उपयोग से यातायात सघनता, कार्बन उत्सर्जन, बस अड्डों पर भीड़-भाड़ भी कम होगी, जो कि लखनऊ जैसे शहर के लिये बड़ी चुनौतियाँ हैं.

मतलब अब आपको बस के लिए सड़क पर खड़े होकर इंतजार नहीं करना है. अपने फ़ोन में चलो ऐप पर जाइये और बस का पता करिये. उसके स्टॉप पर पहुँचने का समय पता कीजिये और सही समय पर घर से निकलिए. लखनऊ के बस यात्री गूगल प्ले स्टोर से चलो ऐप को निःशुल्क डाउनलोड कर फौरन इसका अनुभव ले सकते हैं.

चलो एक निःशुल्क मोबाइल ऐप है. जिसे प्रौद्योगिकी-आधारित परिवहन समाधान कंपनी ज़ाॅपहॉप टेक्नोलॉजीज़ प्राइवेट लिमिटेड ने डेवलप किया है. और इसका लक्ष्य है सभी के लिये यात्रा को बेहतर बनाना. ये ऐप खासतौर से उन यात्रियों के लिये है जो बस, रेलगाड़ी और सार्वजनिक परिवहन के अन्य माध्यमों पर निर्भर रहते हैं. अब किसी को यात्रा के लिए भटकने की ज़रुरत नहीं है.

अर्बन मास ट्रांज़िट कंपनी (यूएमटीसी)

ये तकनीक अर्बन मास ट्रांज़िट कंपनी (यूएमटीसी) द्वारा लाई गई है. यूएमटीसी एक अग्रणी शहरी परिवहन कंपनी है, जो शहरी परिवहन के स्थायी समाधान विकसित करने पर केन्द्रित है. यूएमटीसी परिवहन एवं गतिशीलता योजनाओं, यातायात इंजिनियरिंग, परिचालन उपयोग, नीति निर्माण, आदि विषयों पर उत्तर प्रदेश के विभिन्न विभागों, विकास प्राधिकरणों और निगमों के साथ कार्यरत है. यूएमटीसी खासतौर से विभिन्न परियोजनाओं के लिये लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, मेरठ, आगरा, मथुरा और नोएडा से जुड़ा है.