होर्डिंग में मायावती से बड़ी फोटो लगाई तो प्रत्याशियों पर होगी ये बड़ी कार्यवाही, निर्देश ज़ारी-

सपा-बसपा बठबंधन के बाद मायावती ने चुनाव की तैयारी में लगे अपने प्रत्याशियों के लिए एक बड़ा ऐलान कर दिया है. बीएसपी के लखनऊ मंडल संगठन की बैठक थी. जिसमें बसपा एमएलसी व नवनियुक्त मंडल-जोन इंचार्ज भीमराव अंबेडकर ने ये निर्देश ज़ारी किया है.

candidate cannot put their photo equal to mayawati on holding
candidate cannot put their photo equal to mayawati on holding

उन्होंने कहा कि बीएसपी का कोई भी प्रत्याशी या नेता होर्डिंग या बैनर में पार्टी सुप्रीमो मायावती के बराबर फोटो नहीं लगा सकता. इसके साथ ही अब कहीं भी होर्डिंग लगाने से पहले उसे बीएसपी के प्रभारियों से पास भी कराना होगा. मायावती के निर्देश पर मंगलवार को प्रदेश के सभी मंडलों में नवनियुक्त मंडल-जोन इंचार्जों की मौजूदगी में इसी तरह की बैठक हुई. और सभी जगहों पर ये आदेश दे दिए गए हैं.

वैसे पार्टी के जो पुराने नेता हैं उनको तो बीएसपी की रीति-नीति, होर्डिंग-बैनर लगाने का तौर-तारीका अच्छे से पता है. मगर इस चुनावी मौके पर तमाम जगह नए समर्थक व नवआगंतुक नेता जुड़े हैं और वे अपने हिसाब से होर्डिंग में महापुरुषों व बसपा अध्यक्ष के बराबर या उनसे भी बड़ी अपनी फोटो लगा देते हैं. बीएसपी ने इसे बात को गंभीरता से लिया है. और निर्देश दिए है की यदि कोई ऐसा करता है तो इसे अनुशासनहीनता माना जाएगा.

अंबेडकर ने पार्टी के जिम्मेदार नेताओं को समझाया कि मायावती पार्टी की सर्वोच्च नेता हैं. ऐसे में उनके बराबर फोटो लगाना पार्टी के अनुशासन के लिहाज से ठीक नहीं है. बसपा की मंडलीय बैठकों में आठ से 13 मार्च के बीच जिला स्तरीय बैठकों के कार्यक्रम को भी मंजूरी दी गई है. लखनऊ जिले की बैठक 10 मार्च को होगी. इन बैठकों में विधानसभा स्तर से लेकर जिला स्तर तक के नेताओं को आमंत्रित कर गठबंधन को जिताने की रणनीति बनाने का फैसला लिया जायेगा.

बसपा की बैठकें-

रायबरेली 8 मार्च
उन्नाव 9 मार्च
लखनऊ 10 मार्च
खीरी 11 मार्च
सीतापुर 12 मार्च
हरदोई 13 मार्च