UP में सवारियों से भरी बस हुई हाइजैक, पुलिस प्रशासन और सरकार में मचा हड़कंप, अलर्ट जारी

उत्‍तर प्रदेश के आगरा शहर में एक बड़ी वारदात सामने आ रही है. कुछ बदमाशों ने एक प्राइवेट बस को अगवा कर लिया है और ड्राइवर-कंडक्टर को बंधक बना लिया है.

bus hijack in malpura agra 34 passengers
bus hijack in malpura agra 34 passengers

इस खबर की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन और सरकार में हड़कंप मच गया है. आगरा के मलपुरा के न्यू दक्षिणी बाईपास स्थित रायभा टोल प्लाजा के पास से एक बस को हाईजैक कर लिया गया है. बस में 34 सवारियां हैं. बस गुरुग्राम से मध्यप्रदेश के पन्ना जा रही थी. बदमाशों ने थोड़ी दूर पर बस के चालक को उतार दिया और सबको लेकर भाग निकले.

-----

घबराते हुए चालक ने मलपुरा थाने आकर पुलिस को सूचना दी. घटना की जानकारी के बाद पुलिस में हड़कंप मच गया. चालक ने बताया कि गाड़ी सवार कुछ लोगों ने तड़के 4:00 बजे बस का पीछा करके रुकवाया. उन्होंने खुद को फाइनेंस कर्मी बताया था. बस को रोकने के बाद उन्होंने बस को अपने कब्जे में ले लिया. इसके बाद बस को लेकर आगे बढ़े. रास्ते में एक ढाबे पर बस को रोका और सभी सवारियों के पैसे वापस करवाये. खाना भी खिलाया. इसके बाद उन्होंने एत्मादपुर क्षेत्र में मुझे (चालक) को उतार दिया.

बताया जा रहा है यात्रियों को झांसी में उतार दिया गया है. अभी तक बस का कोई सुराग नहीं मिला है. पुलिस बस की तलाश में छापेमारी कर रही है. गंभीर घटनाक्रम को देखते हुए प्रदेश सरकार में अपर मुख्‍य सचिव गृह अवनीश अवस्‍थी ने इस घटना के बारे में बयान जारी किया है कि इस बस को फाइनेंस कंपनी के कर्मचारियों ने अवैध तरीके से कब्‍जे में लिया है. बस में सवार सभी यात्री सकुशल हैं. लेकिन बस अभी कहां है और यात्री किस जगह पर, इन सवालों का जवाब नहीं मिला है.

चर्चा ये भी है कि बस झांसी क्षेत्र में पहुंच चुकी है. चालक और परिचालक से पूछताछ की जा रही है. बस चालक रमेश के मुताबिक  बस हाईजैक करने वालों ने बस की आठ किश्त बकाया बताई थीं. एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्यता मामला फाइनेंस से जुड़ा हो सकता है. बस की तलाश की जा रही है. टीमें गठित कर दी गई हैं.