हलवा सेरेमनी के साथ बजट की छपाई शुरू, कमरे में कैद हुए ‘वित्त मंत्री’ समेत अधिकारी-कर्मचारी

नॉर्थ ब्लॉक स्थित वित्त मंत्रालय में आयोजित हलवा सेरेमनी कार्यक्रम में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर सहित मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया. इसी के साथ 2020-21 के बजट दस्तावेजों की छपाई भी शुरू हो गई है.

budget document printing starts with halwa ceremony
Photo- PTI- budget document printing starts with halwa ceremony

हलवा सेरेमनी के बाद आज से वित्त मंत्रालय के बजट बनाने से जुड़े सभी अधिकारी उसके पेश होने तक वित्त मंत्रालय में ही रहेंगे. 1 फरवरी को संसद में आम बजट 2020-21 पेश होगा. सीतारमण के दूसरे बजट की लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं क्योंकि देश की अर्थव्यवस्था सुस्ती के दौर से गुजर रही है.

हलवा सेरेमनी का महत्व-

हर साल बजट की प्रिंटिंग शुरू होने से पहले वित्त मंत्रालय के दफ्तर में एक बड़ी कढ़ाई में हलवा बनाया जाता है. इस खास रस्म के पीछे वजह है कि भारतीय परंपरा के अनुसार कुछ भी नया काम शुरू करने से पहले मुहं मीठा करने की परम्परा रही है, इसलिए ही बजट को प्रिंटिंग के लिए भेजने से पहले इस परंपरा को निभाया जाता है.

इसके अलावा भारतीय परंपरा में हलवे को काफी शुभ भी माना जाता है. एक रिसर्च के अनुसार मीठा खाने से सकारात्मकता और ऊर्जा का संचार होता है, इसी के चलते बजट में भी हलवा सेरेमनी की शुरुआत हुई.

सुरक्षा व्यवस्था सख़्त-

और इस दौरान वित्त मंत्रालय की सुरक्षा व्यवस्था भी सख़्त होती है. किसी भी बाहरी व्यक्ति का प्रवेश वित्त मंत्रालय में नहीं होता है. और छपाई से जुड़े अधिकारी और कर्मचारियों को भी बाहर आने-जाने या अपने सहयोगियों से मिलने की अनुमति नहीं होती है. अगर किसी विजिटर का आना बहुत जरूरी है तो उन्हें सुरक्षाकर्मियों की निगरानी में अंदर भेजा जाता है.

देश के बजट की प्रिंटिंग सबसे सीक्रेट ऑपरेशंस में से ए‍क है. बजट से जुड़ी जानकारियां काफी महत्‍वपूर्ण होती हैं और इनके लीक होने से सरकार पर भी सवाल खड़े हो सकते हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *