बीजेपी के संस्थापक रहे ‘मुरली मनोहर जोशी’ का भी टिकट कटा, नहीं लड़ेंगे चुनाव-

लालकृष्ण आडवाणी के बाद आज मंगलवार को बीजेपी ने पार्टी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी का टिकट भी काट दिया है. जिसकी जानकारी खुद जोशी ने ही कानपुर के लोगों को पत्र लिख दी है. जिसके बाद से बीजेपी के दिग्गज नेता पार्टी से खफा हो गए हैं.

bjp will not give ticket murli manohar joshi lok sabha elections
bjp will not give ticket murli manohar joshi lok sabha elections

बतादें, जोशी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और एल.के. आडवाणी की ही तरह बीजेपी के संस्थापक सदस्यों में से एक हैं. बीजेपी ने इससे पहले लालकृष्ण आडवाणी का टिकट काटा था और उनकी गांधीनगर लोकसभा सीट से पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को प्रत्याशी घोषित कर दिया था. और अब मुरली मनोहर जोशी का टिकट भी काट दिया है.

जोशी ने कानपुर के लोगों के लिए पत्र में लिखा कि प्रिय कानपुर के लोगों, बीजेपी के महासचिव रामलाल ने आज मुझे सूचना दी कि मैं इसबार ना तो कानपुर और ना ही किसी अन्य क्षेत्र से चुनाव लडूंगा. पार्टी ने मुझे टिकट ही नहीं दिया है.

उधर जोशी के टिकट कटने पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विट के जरिए बीजेपी पर हमला बोल दिया है. केजरीवाल ने कहा कि जिन्होंने घर बनाया था उन्हीं बुजुर्गों को घर से निकाल दिया. जो अपने बुजुर्गो का नहीं हो सका वो किसका होगा. क्या यही भारतीय सभ्यता है? हिन्दू संस्क्रति तो ये नही कहती कि बुजर्गों को बेज्जत करो.

जोशी का टिकट कटने की सूचना मिलते ही भाजपाई दावेदार सक्रिय हो गए हैं. जोशी ने गंगा मेले में आने का अपना कार्यक्रम भी निरस्त कर दिया है. अब यहां पार्टी से कौन प्रत्याशी होगा, इसे लेकर कवायद चल रही है. कहा जा रहा है कि एक दो दिन में नए प्रत्याशी की घोषणा हो जाएगी. सांसद जोशी कानपुर से पहली बार 2014 में लोकसभा प्रत्याशी बनाए गए थे. उन्होंने कांग्रेस के प्रत्याशी श्रीप्रकाश जायसवाल को शिकस्त दी थी.