BJP का मिशन बंगाल, जीत तय करने के लिए मैदान में उतारी केंद्रीय मंत्रियों की फौज

बिहार में सरकार बनाने के बाद अब बीजेपी बंगाल विजय के मिशन में जुट गई है. यहां अप्रैल 2021 में विधानसभा चुनाव होने हैं. चुनाव से पहले बीजेपी ने केंद्रीय मंत्रियों, एक डिप्टी CM और नेशनल लेवल के नेताओं को जमीन पर उतार दिया है.

bjp strategy west bengal election 2021
bjp strategy west bengal election 2021

गृहमंत्री अमित शाह 19 और 20 दिसंबर को राज्य के दौरे पर जाएंगे. उनके बाद केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत, संजीव बालियान, प्रह्लाद पटेल, अर्जुन मुंडा और मनसुख मंडाविया अगले कुछ दिनों में राज्य का दौरा करेंगे. हर एक के जिम्मे छह से सात लोकसभा क्षेत्र बांटे गए हैं. उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और मध्य प्रदेश के कैबिनेट मंत्री नरोत्तम मिश्रा को भी पश्चिम बंगाल में जिम्मेदारी सौंपी गई है.

केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल ने भी इसकी पुष्टि की कि उन्हें नॉर्थ बंगाल में पार्टी की चुनावी तैयारियों का जिम्मा दिया गया है. ये सभी नेता 19 दिसंबर को अमित शाह की अध्यक्षता में होने वाली एक बैठक में हिस्सा लेंगे. पार्टी ने अपने पदाधिकारियों को पांच अलग-अलग जोन से फीडबैक लेने की जिम्मेदारी सौंपी है.

उधर तृणमूल कांग्रेस के कद्दावर नेता शुभेंदु अधिकारी ने तृणमूल कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा देते हुए पार्टी के साथ पूरी तरह नाता तोड़ लिया है. इससे पहले उन्होंने 27 नवंबर को राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने मुख्यमंत्री से उनका इस्तीफा तुरंत स्वीकार करने का भी अनुरोध किया है. माना जा रहा है कि सुवेंदु जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकते हैं.

बतादें कि अब तक बीजेपी पश्चिम बंगाल की सत्ता के करीब भी नहीं पहुंच पाई है. इसलिए इस बार बीजेपी कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है. इससे पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा दो दिन के लिए बंगाल गए थे. वहां उनके काफिले पर हमला हो गया था जिसमें कैलाश विजयवर्गी को चोट लग गई थी. बीजेपी इसका फायदा भी उठा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *