रावण दहन देख रही भीड़ पर चढ़ी तेज रफ़्तार ट्रेन, 60 लोगों की कट कर मौत, देखिये वीडियो-

दशहरे के दिन हुआ ऐसा रेल हादसा जिसे देख सभी दंग रह गए. पंजाब के अमृतसर में ये बड़ा रेल हादसा हुआ है. रेलवे ट्रैक के पास रावण दहन हो रहा था. काफी भीड़ भी लगी थी इसलिए लोग रेलवे ट्रैक पर भी खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे. तभी अचानक वहां तेज रफ़्तार से ट्रेन आ गई. किसी को ट्रेन आने का पता ही नहीं चल पाया. जब लोगों ने देखा तब तक ट्रेन लोगों पर चढ़ती हुई निकल गई. जिसमें 58 लोगों की कट कर मौत हो गई. मरने वालों की तादाद अभी और बढ़ सकती है. मौके पर राहत और बचाव दल ने पहुँच कर घायलों को अस्पताल पहुँचाया.

पंजाब सरकार ने मुआवजे का किया ऐलान

पठानकोट-अमृसर रेलवे ट्रैक पर ये हादसा हुआ है. इस भयावह हादसे पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत तमाम नेताओं ने दुख जताया है. पंजाब सरकार ने ऐलान किया है कि मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये दिए जाएंगे और घायलों का पूरा इलाज सरकार द्वारा किया जाएगा.

कैसे हुआ ये हादसा ?

Big Rail Accident In Amritsar Of Punjab many people killed
फोटो सौजन्य से:- amarujala
-----

बताया जा रहा है की जोडा रेलवे फाटक के पास दशहरा कार्यक्रम का आयोजन हुआ था. रावण दहन के दौरान रावण का जलता हुआ पुतला नीचे गिरने लगा. जिसे देख वहां खड़े लोग भागने लगे देखते ही देखते भगदड़ मच गई आैर लोग बचने के लिए पीछे रेलवे लाइन की ओर भागने लगे. उसी दौरान लोग अमृतसर-हावड़ा मेल की चपेट में आ गए. इससे लोग संभले न थे की दूसरे ट्रैक पर भी तेज रफ्तार जालंधर-अमृतसर डीएमयू आ गई उसमें भी कई लोग ट्रेन की चपेट में आ गए.

सवालों के घेरे में आया प्रशासन

हादसे के शिकार हुए लोगों में किसी का सिर धड़ से अलग हाे गया तो किसी के हाथ-पैर कट गए। रेलवे ट्रैक पर लाशें बिखरी पड़ी थीं. घायलों को सिविल अस्‍पताल व अन्‍य अस्‍पतालों में दाखिल कराया गया है. खबर ये भी आ रहीं है की नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर भी उसी कार्यक्रम में मौजूद थीं. इस हादसे के बाद कई बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं. पुलिस प्रशासन पर भी सवाल उठे हैं कि इस जगह पर दशहरा कार्यक्रम की इजाजत क्यों दी गई. रेलवे पर भी सवाल खड़ा हुआ कि इस तरह की लापरवाही कैसे हुई कि सैकड़ों लोग ट्रैक पर आ गए और इन्हें हटाया भी नहीं गया.

 

वीडियो सौजन्य से:- BBC Hindi