पृथ्वी की तरफ तेजी से बढ़ रहा है एक बड़ा खतरा, तबाह हो सकता है पूरा का पूरा देश, चेतावनी जारी

पूरे विश्व में लोग अपनी अपनी समस्याओं से परेशान रहते हैं. कभी घर की लड़ाई तो कभी बाहर की लड़ाई. या फिर दो देशों की आपस में लड़ाई. जिससे हर किसी को हमेशा ही खतरा बना रहता है. लेकिन क्या आपको पता है कि जिस पृथ्वी पर आप रहते हैं उसपर भी एक बड़ा खतरा मंडरा रहा है.

asteroid 2020 ab2 rising towards earth at very fast speed
asteroid 2020 ab2 rising towards earth at very fast speed

ये बात बिलकुल सही है. साल 2020 का पहला चंद्र ग्रहण पृथ्वी के लिए मुसीबत लेकर आया है. इससे पहले नास्त्रेदमस और बाबा वेन्गा समेत कई विद्वान पृथ्वी के सर्वनाश की भविष्यवाणी कर चुके हैं. बाइबल के ‘बुक ऑफ रिवेलेशन’ में भी धरती के सर्वनाश का जिक्र किया गया है. और अमेरिका की स्पेस एजेंसी नासा (NASA) ने इस बात को पक्का भी कर दिया है.

पृथ्वी की तरफ तेजी से बढ़ रहा है धूमकेतु 2020 AB2

अंतरिक्ष में हजारो ऐसे एस्टेरॉयड मौजूद हैं, जो धरती से टकरा जाएं तो दुनिया में भारी तबाही ला सकते हैं. एस्टेरॉयड ट्रैकिंग सिस्टम के जरिए नासा ने विशालकाय धूमकेतु 2020 AB2 का पता लगाया है. पृथ्वी की तरफ तेजी से बढ़ रहे इस एस्टेरॉयड को लेकर नासा ने चेतावनी भी जारी की है, जो धरती के लिए खतरा साबित हो सकता है. वैज्ञानिकों की माने तो अगर ये एस्टेरॉयड पृथ्वी से टकराया तो इससे भरी तबाही मचा सकता है.

10 जनवरी को चंद्र ग्रहण के बाद रविवार, 12 जनवरी को एक धूमकेतु पृथ्वी के बिलकुल करीब से होकर गुजरा है. नासा ने इस धूमकेतुओं के आकार और रफ्तार के बारे में जानकारी देते हुए बताया है कि ये धूमकेतु 28,440 प्रतिघंटे की रफ्तार से पृथ्वी की तरफ बढ़ रहा है.

कितनी है एस्टेरॉयड की गति-

आप इस तरह समझिये कि मानव द्वारा निर्मित SR-71 ब्लैकबर्ड अब तक का दुनिया का सबसे तेज विमान माना जाता है. जो लंदन से न्यूयॉर्क की दूरी एक घंटे में भी पूरी नहीं कर सकता है. लेकिन पृथ्वी की तरफ बढ़ रहे इस धूमकेतु की गति इतनी ज्यादा है कि ये लंदन से न्यूयॉर्क शहर की दूरी सिर्फ छह मिनट में पूरी कर सकता है.

कब टकराएगा एस्टेरॉयड-

इस धूमकेतु की एक चोट से पृथ्वी का एक बड़ा हिस्सा तबाह हो सकता है. ये धूमकेतु 185 फीट ऊंची सुनामी ला सकता है. वैज्ञानिकों के अनुसार भविष्य में इससे भी बड़े आकार के एस्टेरॉयड के पृथ्वी से टकराने की संभावना है. नासा को डर है कि जिस एस्टेरॉयड में पृथ्वी के किसी देश को तबाह करने की क्षमता है वो अगले 120 वर्षों के अंदर यानी साल 2135 में टकरा सकता है.

क्या होते हैं धूमकेतु या एस्टेरॉयड-

धूमकेतु या एस्टेरॉयड हमारे सोलर सिस्टम का ही हिस्सा होते हैं, जो पत्थर, धूल, बर्फ और गैस के टुकड़े होते हैं. ज्यादातर धूमकेतु बर्फ, कार्बन डाईऑक्साइड, मीथेन, अमोनिया, सिलिकेट और कार्बनिक मिश्रण से बने होते हैं. चंद्र ग्रहण से ठीक पहले चार विशालकाय धूमकेतु पृथ्वी के बेहद करीब से होकर गुजरे हैं. ये धूमकेतु आकार में 2020 AB2 से भी बड़े हैं. इन धूमकेतुओं का नाम ‘Asteroid 2019 YV’, ‘Asteroid 2020 AL2’, ‘Asteroid 2019 YF4’, ‘Asteroid 2019 UO’ है.

साल 2013 में हो चुकी है एक घटना-

साल 2013 में चेलियाबिंस्क में एक छोटा पिंड टकराया था, जिसकी वजह से 66 फीट गहरा गड्ढा हो गया था. ये टक्कर दक्षिणी यूराल क्षेत्र में हुई थी जिस कारण करीब 1500 लोग घायल हो गए थे और काफी संपित्तयों को नुकसान पहुंचा था. ये घटना इतनी तेज हुई थी जिसे लोग समझ ही नहीं पाए थे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *