ब्रह्मपुत्र नदी में हुई दो नावों की टक्कर, 90 लोगों की मौत

Assam Boat Accident : असम के जोरहाट में नीमाती घाट पर यात्रियों से भरी दो नावें ब्रह्मपुत्र नदी में आपस में टक्करा गई. दोनों नावों के बीच हुई जोरदार टक्कर नाव में बैठे करीब 100 यात्रियों की ब्रह्मपुत्र नदी में डूबने से मौत हो गई. स्थानीय लोगों का कहना हैं कि दोनों नाव अलग-अलग दिशा से आ रही थीं. एक नाव जोरहट के निमतीघाट से माजुली आर रही थी, जबकि दूसरी माजुली से जोरहट जा रही थी. स्थानीय लोगों के मुताबिक नाव माजुली घाट से सिर्फ 100 मीटर दूर थी. साथ ही नावों में करीब 25 से 30 बाइक भी रखी हुई थीं.

http://ultachasmauc.com/renamed/

ब्रह्मपुत्र नदी में 100 से ज्यादा यात्रियों को लेकर जा रहीं 2 नाव आपस में टकरा गईं. इसमें से एक नाव डूब गई. हादसे के बाद कुछ लोगों ने किसी तरह तैरकर खुद की जान बचाई. नाव उलटने से 90 लोगों की हुई मौत के बाद भड़के लोगों ने जमकर प्रदर्शन किया… साथ ही बिजली के मंत्री के घेराव की कोशिश की. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड्स तोड़ने की कोशिश की तो पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवानों ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठी चार्ज किया.

लेकिन सीएम हिमंत बिस्वा सरमा के दौरे से पहले माजुली पहुंचे बिजली मंत्री बिमल बोरा का प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने घेराव कर उन्हें लगभग आधे घंटे तक गर्मूर चरियाली में सड़क पर बैठने को मजबूर कर दिया..प्रदर्शन के दौरान मौके पर पहुंचे मंत्री बिमल बोरा ने आंदोलनकारियों को शांत करने की कोशिश की. मंत्री बिमल बोरा ने कहा कि वह यहां शिकायतें सुनने आए हैं, कृपया आपस में बात करें.

http://ultachasmauc.com/national-monetisation-pipeline-pragya-ka-panna/

विरोध कर रहे छात्रों का कहना हैं कि नावों पर कोई टिकट नहीं दिया जाता है और न ही उन्हें नाव पर बैठाते समय कोई लाइफ जैकेट है. छात्रों का कहना था कि उनका जबसे जन्म हुआ हैं तब से लेकर वह अब तक एक ही पुल को देखते चले आ रहे हैं. हर बार पुल बनाने का वादा किया जाता हैं लेकिन हर वादे के बाद उन्हें अब तक एक भी खंभा नहीं दिखाई दिया है.

-----

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *