लखनऊ पहुंचे अमित शाह, सपा-बसपा और कांग्रेस पर बोला ज़ोरदार हमला-

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज सहकारिता सम्मेलन में शामिल होने के लिए राजधानी पहुंचे हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया. योगी के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री व यूपी प्रभारी जेपी नड्डा, उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा व प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय और मंत्री बृजेश पाठक व आशुतोष टंडन भी मंच पर मौजूद रहे.

amit shah will give tips to bjp workers in lucknow Dr. Ram Manohar Lohiya National Law University
फ़ोटो सौ:- @amitshah

ये कार्यक्रम का आयोजन शहर के डॉ. राममनोहर लोहिया राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय के सभागार में किया जा रहा है. अमित शाह ने सहकारिता सम्मेलन में मौजूद लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सहकारिता देश के विकास में बड़ी भूमिका निभाता है. गुजरात, महाराष्ट्र व कर्नाटक जैसे राज्यों में सहकारिता से बड़ी संख्या में गरीबों को लाभ मिला है. यूपी में सहकारिता की सबसे ज्यादा संभावना है. सपा-बसपा के शासनकाल में यूपी में प्रशासनिक व राजनीतिक संस्थाओं की स्थिति चरमरा गई थी जिसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार उसे सुधारने का प्रयास कर रही है.

शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि सहकारिता की शुरुआत इसी मकसद से की गई थी जिससे किसानों को लाभ मिले. मगर सोनिया मनमोहन की सरकार ने सहकारिता के जरिये किसानों को सिर्फ 23 हज़ार करोड़ ही दिए. जबकि मोदी सरकार ने किसानों को 73 हज़ार करोड़ रुपये दिए. अर्थव्यवस्था 9वें नंबर पर थी मगर मोदी सरकार ने अपने कड़े प्रयास से 6 नंबर पर लाने का प्रयास किया है. गुजरात, कर्नाटक व महाराष्ट्र का सहकारी मॉडल देश के लिए एक उदाहरण है.

शाह ने कहा मोदी सरकार में आज किसानों का पैसा सीधा खाते में पहुँच रहा है. जितने भी बिचौलिए थे उन सबकी छुट्टी कर दी गई है. मैं राहुल बाबा से पूछता हूँ की कर्नाटक में किसानों का कर्ज कब माफ़ किया जायेगा. यूपी में 74 सीटें जीत कर मोदी जी को प्रचंड बहुमत देना है. शाह के बाद सीएम योगी ने कहा की सरकार ने 23 माह में प्रदेश के किसानों के जीवन में परिवर्तन का प्रयास किया है. सरकार किसानों से सीधे उनकी उपज खरीद रही है.