मेल और एक्सप्रेस ट्रेन में रहेंगी सिर्फ AC बोगी, हटाए जाएंगे स्लीपर कोच, पढ़ें रेलवे का प्लान

इंडियन रेलवे एक नया प्लान लेकर आई है. इस प्लान के तहत धीमी गति से चलने वाली पैसेंजर और लोकल ट्रेनों को छोड़कर, बाकी सभी ट्रेनों में केवल एसी बोगियां ही रहेंगी.

all mail express trains phased out non ac coaches
all mail express trains phased out non ac coaches

स्वर्णिम चतुर्भुज योजना के तहत लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों से स्लीपर कोच को पूरी तरह खत्म कर दिए जाएगा. 72 बर्थ वाले वर्तमान स्लीपर क्लास कोच को 83 बर्थ वाले अधिक कॉम्पैक्ट एसी कोच से बदल दिया जाएगा. इस साल के अंत तक कोच की संख्या बढ़ाकर 100 कर दी जाएंगी. वहीं अगले साल कोच की संख्या 200 किए जाने का प्लान है. आने वाले समय में यात्रा और ज्यादा आरामदायक और कम समय में हो जाएगी.

वहीँ किराए की बात करें तो नए कोचों का किराया वर्तमान एसी किराए की तुलना में कम होगा लेकिन स्लीपर क्लास के टिकट से थोड़ा अधिक होगा. इन ट्रेनों की रफ्तार 2023 तक 130 किमी प्रति घंटा और 2025 तक 160 किमी प्रति घंटे करने की योजना है. ट्रेनों से अगर स्लीपर कोच को खत्म नहीं किया जाएगा तो ट्रेनों को इस रफ्तार पर चलाना संभव नहीं हो पाएगा.

दरअसल नॉन-एसी कोच इसलिए हटाए जा रहे हैं क्युकी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के 130 किमी प्रति घंटे या उससे अधिक की रफ्तार से चलने पर नॉन-एसी कोच तकनीकी समस्याएं पैदा करती हैं. इसलिए इस तरह की सभी ट्रेनों से स्लीपर कोच को खत्म कर दिया जाएगा. लेकिन इसका ये मतलब बिलकुल भी नहीं है कि अब नॉन एसी कोच होंगे ही नहीं. वो भी होंगे बस वो ट्रेने अलग होंगी और उनकी स्पीड भी कम होगी. नॉन-एसी कोच की ट्रेन 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाई जाएंगी.

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन और मुख्य कार्यकारी अधिकारी विनोद कुमार यादव ने कहा कि रेलवे का ये कदम यात्रा को सुविधाजनक और सुरक्षित बनाने के लिए है. धीरे-धीरे लगभग 1,900 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में सभी गैर-एसी कोचों को खत्म कर दिया जायेगा. ये एक बड़ी एक्सरसाइज है और हम इसे चरणबद्ध तरीके से करेंगे.

इससे पहले इंडियन रेलवे 39 नई पैसेंजर ट्रेनों को चलाने की मंजूरी दे चुका है. ये सभी ट्रेनें स्पेशल ट्रेनों के रूप में चलाई जाएंगी. रेलवे की तरफ से सभी 39 ट्रेनों की लिस्ट जारी कर दी गई है, लेकिन अभी इन्हें कब से चलाया जाएगा, इसकी जानकारी नहीं दी गई है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *