अखिलेश ने लिखा देश के नाम खुला खत, देश को बर्बाद कर रहे हैं ये ‘ढाई आदमी’

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सभी भारतीयों के नाम खुला खत जारी किया है. अखिलेश यादव ने अपने खत में साफ़ कहा है कि देश को ढाई आदमी (टू एंड हाफ) और मीडिया बर्बाद करने पर तुले हुए हैं.

akhilesh yadav wrote open letter for country
akhilesh yadav wrote open letter for country

अखिलेश ने ढाई आदमी तो बोल दिया मगर ढाई आदमियों के नाम का जिक्र नहीं किया है. लेकिन अनुमान ये लगाया जा रहा है कि उनका इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और वित्त मंत्री अरुण जेटली की ओर ही है. उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर पूरा पत्र ट्वीट भी किया है.

अखिलेश ने सभी भारतीयों को संबोधित करते हुए लिखा है- ‘ढाई लोग’ मिलकर देश की लोकतांत्रिक संस्थाओं और मूल्यों को बर्बाद करना चाहते हैं. उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार का रवैया संघीय ढांचे की भावना के खिलाफ है. इस देश का एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हमारे लोकतंत्रात्मक गणराज्य की रक्षा करना मेरा भी कर्तव्य है.

बंगाल का जिक्र करते हुए उन्होंने लिखा कि आज बंगाल पर जो हमला हुआ है, वो सिर्फ हमारे मूल्यों पर ही नहीं बल्कि हमारे संविधान के निर्माताओं पर भी हमला है. बीजेपी और आरएसएस ने हमेशा संविधान का विरोध किया है. अखिलेश ने न्यायपालिका, सीबीआई और अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों से अपील की है कि वे इन संस्थानों पर लगातार हो रहे हमले के खिलाफ संघर्ष करें.

बीजेपी हमारी संप्रभुता, हमारे प्राकृतिक संसाधन और हमारे युवाओं को चंद उद्योगपतियों के हाथों बेच रही है. ये वही उद्योगपति हैं, जो बीजेपी को फंडिंग करते हैैं और बदले में सरकार उन्हें फायदा पहुंचाने के लिए नीतियां बनाती है. उन्होंने बीजेपी के आइटी सेल को इंटरनेट टेररिस्ट सेल का दर्जा देते हुए कहा कि अल्पसंख्यक वर्ग इस डर के साये में जी रहा है कि कहीं वह मॉब लिंचिंग (उन्मादी हिंसा) का शिकार न बन जाए. बीजेपी सरकार के कार्यकाल में आम आदमी के सपने तार-तार किए जा रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेहद कमजोर व्यक्ति हैं. कैबिनेट में उनके सहयोगी नितिन गडकरी भी कह रहे हैं, जो अपने घर को नहीं संभाल सकता, वो देश क्या संभालेगा. बीजेपी का फॉर्मूला साफ है. जो लोग इनके साथ नहीं है, उनको सीबीआइ के चक्कर में फंसाओ, उन पर देशद्रोह का आरोप लगाओ. क्युकी बीजेपी वाले पचास साल तक राज करना चाहते हैं.

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी पर हुए हमले पर अखिलेश ने लिखा कि ममता बनर्जी पर हमला करके ये ढाई आदमी शायद अपने अतीत को भूल गए हैं. ये वो महिला हैं जिन्हें ज्योति बसु के ऑफिस से बाल पकड़कर बाहर निकाला गया था क्योंकि वह एक बलात्कारी को जेल भेजने की मांग कर रही थीं. ये वो महिला हैं जिन्होंने बंगाल से कम्युनिस्ट पार्टी को उखाड़ फेंका था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *