सपा के सम्मेलन से क्यों गायब रहा..जय जय जय जय अखिलेश का नारा..

अखिलेश यादव राज्य सम्मेलन

समाजवादी पार्टी के दो दिन के सम्मेलन में पहले दिन का सम्मेलन..राज्य के नाम रहा..9वें राज्य सम्मेलन (Samajwadi Party 9th Conference) में नरेश उत्तम पटेल को समाजवादी पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष चुन लिया गया..नरेश उत्तम पटेल को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने पर किसी को ना तो कोई सुख की प्राप्ति हुई ना ही दुख की प्राप्ति हुई..सभी कार्यकर्ता और नेता जैसे सूखे सावन का मौसम महसूस करते थे वैसे ही उनको भरे भादव का भी मौसम लगा..

कुछ तूफानी होने की उम्मीद किसी को पहले से भी नहीं थी..लेकिन यूपी में कयासों पर कोई प्रतिबंध नहीं है..इसलिए लोग तरह तरह के कयास लगा रहे थे..लेकिन फिर भी अगर फूफू के मूछें होतीं भी तो वो फूफा नहीं ना बन सकती हैं..नरेश उत्तर पटेल को लगातार चुनते रहने के लिए अखिलेश यादव ने भी बधाई दी..

“मैं सबसे पहले आज आपके द्वारा चुने गए प्रदेश के अध्यक्ष श्री नरेश उत्तम पटेल जी को बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं।” – समाजवादी पार्टी के राज्य सम्मेलन में माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव जी..

दो दिन के सपा के सम्मेलन में आज पहले दिन..नरेश उत्तम पटेल को यूपी का प्रदेश अध्यक्ष चुना गया..कल यानी 29 सितंबर को अखिलेश यादव को सपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना जाएगा..आज 9वां राज्य सम्मेलन (Samajwadi Party 9th Conference) था..कल राष्ट्रीय सम्मेलन होगा..पहले दिन की खास बात ये रही कि समाजवादियों में जोश जोरदार था..जोश की किसी तरह की कोई किमी नहीं थी..

लेकिन जय जय जय जय अखिलेश का नारा लगाने वाले सपा के पहले वाले युवा साथी..जैसे सुनील साजन..संजय लाठर..अनंद भदौरिया..उदयवीर सिंह..जैसे नेता..मंज पर पहले की तरह एक्ट्राचार्ज और एक्टिव दिखाई नहीं दिए..मंच पर इसकी जिम्मेदारी कुछ दूसरे समाजवादियों ने निभाई लेकिन एक बात तो सच है कि उनके जिंदाबाद के नारों में पहले वाला जोशीला उद्घोष नहीं था..

अखिलेश यादव ने कार्यक्रम की शुरूआत में झंडा रोहण किया…पहले देश का झंडा फहराया..उसमें राष्ट्रगान हुआ..उसके बाद सपा का झंडारोहण हुआ जिसमें सपा के गीत समाजवादी झंडा गाया गया..समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party 9th Conference) के निर्वाचन अधिकारी थे रामगोपाल यादव प्रदेश और राष्टरीय अध्यक्ष का चुनाव निष्पक्ष तरीके से कराना रामगोपाल यादव की ही जिम्मेदारी है..आज के राज्य सम्मेलन में आर्थिक और राजनीतिक प्रस्ताव पेश किए गए..जिसमें सपा के नेताओं ने मंच पर अपनी अपनी बात रखी..

सपा के 9वें राज्य सम्मेलन में लखनऊ का रमा बाई अंबेडकर मैदान खचाखच भरा हुआ था…भीड़ को देखकर लग रहा था कि बीजेपी का सपा से डरना गैरवाजिब नहीं है..भाषण में अखिलेश यादव ने कह भी दिया कि बीजेपी को यूपी में अगर कोई हरा सकता है तो वो समाजवादी पार्टी ही है..

बिना किसी बड़े बदलाव के सपा का राज्य सम्मेलन (Samajwadi Party 9th Conference) सफलता से निपट गया..नरेश अत्तम पटेल अब फिर से सपा के प्रदेश अध्यक्ष होंगे..2024 का चुनाव भी उनकी निगरानी में ही लड़ा जाएगा..समाजवादियों को उम्मीद है कि अतीत पर मिट्टी डालते हुए 2024 में नरेश उत्तम पटेल कुछ कमाल कर पाएंगे..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *