अखिलेश ने आजमगढ़ से किया नामांकन, कहा- नहीं बचेंगे ‘चौकीदार’ और ‘ठोकीदार’

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज गुरुवार को आजमगढ़ संसदीय सीट से अपना पर्चा दाखिल कर दिया है. इस बार अखिलेश का मुकाबला भाजपा के उम्मीदवार निरहुआ से होगा.

akhilesh yadav nomination file azamharg seat lok sabha elections
akhilesh yadav nomination file azamharg seat lok sabha elections

अखिलेश यादव के नामांकन के दौरान सपा की महाराष्ट्र ईकाई के प्रदेश के अध्यक्ष अबू आसिम आजमी, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव महासचिव बलराम यादव के अलावा बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीशचन्द्र मिश्रा, प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा, पूर्वांचल प्रभारी घनश्याम चंद खरवार, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सुखदेव राजभर प्रमुख रूप से शामिल थे.

नामांकन करने से पहले अखिलेश यादव पत्रकारों से मुखातिब हुए और बोले कि जनता अब जागरूक हो गई है. इसलिए पहले और दूसरे चरण के चुनाव में वोटों की बारिश हो रही है. इसी तरह से वोटों की बारिश आगे भी होगी. और ये बारिश समाजवादी धरती आजमगढ़ में भी होगी. अखिलेश ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि आजमगढ़ में सपा-बसपा द्वारा किए गए कामों के आधार पर गठबंधन जीतेगा. और बीजेपी को बताना पड़ेगा कि उन्होंने देश और प्रदेश में क्या काम कराया है ? बीजेपी को पांच सालों का नहीं बल्कि अब सात सालों का हिसाब देना होगा.

नामांकन के बाद अखिलेश आजमगढ़ के बैठोली में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे. वहां उन्होंने कहा कि सपा बसपा और रालोद का गठबंधन महा मिलावट नहीं, बल्कि महापरिवर्तन का गठबंधन है. हमारे गठबंधन में तो बस तीन दल शामिल हैं. लेकिन भाजपा जवाब दें कि 38 दलों के साथ गठबंधन को क्या कहेगी भाजपा ? भाजपा का गठबंधन महामिलावट है. भाजपा ने रोजगार में चोरी की है। देश की जनता को बहकाया है.

वहीं सीएम योगी पर निशाना साधते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हमारे मुख्यमंत्री ठोकीदार भी है. जो हमेशा सबको ठोकते रहते हैं. सीएम के तर्ज पर ही भाजपा के सांसद ने विधायक को 12 जूतों की सलामी भी दी. जनता ‘चौकीदार’ और ठोकीदार की चौकी जरूर छीनेगी. अब ये बच नहीं पाएंगे.