बीजेपी के नेता, विधायक, सांसद और मंत्री खुद अपराधियों को देते हैं प्रोत्साहन: अखिलेश

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व यूपी मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर कानून व्यवस्था को लेकर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि योगी सरकार ने अपराध कम होने के लाखों दावे किये. लेकिन उसके बावजूद प्रदेश में अपराध पर नियंत्रण बिलकुल भी नहीं हो पा रहा है.

akhilesh yadav comment on uttar pradesh yogi government
akhilesh yadav comment on uttar pradesh yogi government
तमाम निर्देशों का नतीजा सिफर

अखिलेश ने आगे कहा कि बीजेपी सरकार स्वयं कानून व्यवस्था से खिलवाड़ कर प्रदेश का माहौल बिगाड़ने के लिए जिम्मेदार है. योगी अपनी अक्षमता को छिपाने के लिए अफसरों पर ठीकरा फोड़ते हैं. लेकिन उससे कुछ हासिल होने वाला नहीं है. योगी रोज-रोज बैठकें कर रहे हैं और आधी रात तक पुलिस गश्त लगा रही है. पर तमाम निर्देशों का नतीजा सिफर ही रहा है.

अपराधियों को प्रोत्साहन

अखिलेश ने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी के नेता, विधायक, सांसद और मंत्री खुद अपराधियों को प्रोत्साहन देते हैं. और योगी जी तो खुद ठोकने की बात करते हैं. अब आप ही बताइये की ठोकने की बात तो सिर्फ गुंडे-बदमाश ही करते हैं. एक मुख्यमंत्री को ये शोभा नहीं देता है. कहीं थानों में पुलिस पर हमला हो रहा है, कहीं पुलिस को धमकियां दी जा रही हैं. और अभियुक्तों को जबरन छुड़ाने का काम चल रहा है. जब ये सब ही योगी सरकार नहीं नियंत्रण कर पा रही है तो प्रदेश में कानून व्यवस्था पर नियंत्रण की बात करना बेवकूफी होगी.

नए साल में प्रधानमंत्री भी नया

वहीं अखिलेश ने पीएम मोदी पर तंज कस्ते हुए जनता से अपील की है की संकल्प लें की नए साल में प्रधानमंत्री भी नया हो. मोदी जनता को अच्छे दिन के नाम पर सिर्फ धोखा ही देते आ रहे हैं. देश में जिस तरह संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर किया जा रहा है, ये चिंताजनक विषय है. बीजेपी राज में व्यापारियों का अपहरण, निर्दोष लोगों का एनकाउंटर और मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं ने दहशत का माहौल पैदा कर दिया है.

बीजेपी ने कुछ नहीं किया

अखिलेश ने कहा, हमनें लखनऊ मेट्रो, गोमती रिवर फ्रंट, जयप्रकाश नारायण सेंटर, जनेश्वर मिश्र पार्क, सीजी सिटी, क्रिकेट स्टेडियम, कैंसर इंस्टीट्यूट जैसे कार्य कराएं है. और प्रदेश को अपराध मुक्त बनाने के लिए यूपी डायल 100 की व्यवस्था लागू की थी, लेकिन बीजेपी सरकार ने इसे भी बर्बाद करके रख दिया. बीजेपी ने लखनऊ में क्या किया है ?