24 घंटे में अयोध्या विवाद सुलझाने वाले योगी को अखिलेश का जवाब, सत्ता में आते ही पहले…

इस चुनावी माहौल में राहुल अखिलेश मायावती योगी कोई भी एक मौका नहीं छोड़ना चाहता है. एक दूसरे को नीचा दिखाने के लिए सभी प्रयास में लगे है. वहीं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी यूपी की सत्ता पाने के लिए योगी सरकार को गिराने में लगे हैं. और अब वे कांग्रेस को अपने पाले में करने में लगे हैं.

akhilesh yadav attack on up cm yogi aditynath

अखिलेश ने कहा, कांग्रेस यदि बीजेपी से लड़ना और उसे हराना चाहती है तो प्रदेश में सपा-बसपा गठबधन का समर्थन करे. हमने कांग्रेस के लिए रायबरेली व अमेठी सीट छोड़ दी है. वहीं उन्होंने प्रियंका गांधी के राजनीति में आने का स्वागत किया और कहा, नया भारत बनाने के लिए नए लोगों को राजनीति में आना चाहिए.

अखिलेश ने योगी के 24 घंटे में अयोध्या विवाद सुलझाने के दावे पर कहा कि पहले उन्हें किसानों को सांडों से बचाना चाहिए. जो किसानों की फसल चौपट कर रहे हैं, और उनकी जान भी ले रहे हैं. योगी इसके लिए कुछ नहीं करेंगे बस बीजेपी वाले झूठ फैलाने में सबसे आगे हैं. योगी सरकार के पास अब सिर्फ 90 दिन का समय बचा है. जो भी करना है कर लें. फिर जनता इसका मजबूती के साथ जवाब देगी.

जातीय समीकरण पर उन्होंने कहा कि जातीय आकड़ों के बिना बनाई गई कोई भी विकास योजना सही नहीं चल सकती है. यहाँ अखिलेश ने कहा की सपा के सत्ता में आने पर हम सबसे पहले जातीय गणना के आंकड़े जारी करेंगे. और उसी के अनुसार उनका विकास किया जायेगा. अपनी सरकार की बढ़ाई करते हुए उन्होंने कहा की उनकी सरकार में मुस्लिम मंत्रियों व अफसरों ने कुंभ मेले में शानदार इंतजाम किए थे. उस समय आजम खां नगर विकास मंत्री, अहमद हसन स्वास्थ्य मंत्री और जावेद अहमद मुख्य सचिव थे.

अखिलेश ने आगे कहा कि सपा लोगों को जोड़ने में विश्वास रखती है जबकि बीजेपी वाले हर वक्त समाज को सिर्फ सांप्रदायिक आधार पर बांटते रहते हैं. इससे पहले अखिलेश ने कुंभ से योगी सरकार पर तंज कसा था. अखिलेश यादव ने कहा था कि योगी का कुंभ तभी सफल माना जायेगा जब युवाओं को नौकरी और किसान सुखी रहेंगे.