भारत में कोरोनावायरस के 73 मामले, 35 दिन के लिए दुनिया से कटा भारत, बढ़ा ख़तरा

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोनावायरस को महामारी घोषित कर दिया है. चीन का ये वायरस पूरे विश्व में तेजी से फैलता जा रहा है. भारत ने कोरोनावायरस मामलों की संख्या 73 पहुंच गई है.

73 positive cases coronavirus in india suspending regular and e-visas
73 positive cases coronavirus in india suspending regular and e-visas

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख ने कहा कि कोविड-19 को पैनडेमिक (विश्वव्यापी महामारी) माना जा सकता है. समाज और अर्थव्यवस्था पर पड़ रहे कोरोना के प्रभाव को कम करने के लिए हम कई सहयोगियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं. वहीं बुधवार को भारत सरकार ने एक बड़ा आदेश जारी कर दिया है, इसके मुताबिक, 13 मार्च को शाम 5.30 बजे से अगले 35 दिन यानी 15 अप्रैल तक के लिए दुनिया के किसी भी देश के हर व्यक्ति के वीजा रद्द कर दिए गए हैं. सिर्फ डिप्लोमैटिक और एम्प्लॉयमेंट वीजा को छूट दी गई है. लेकिन भारत में रह रहे सभी विदेशियों के वीजा वैध बने रहेंगे.

भारत सरकार ने साफतौर पर कहा है कि अगर जरूरी न हो तो भारतीयों को विदेशों में जाने से बचना चाहिए. 73 संक्रमित मरीजों में 17 विदेशी शामिल हैं. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार केरल 17, हरियाणा 14, महाराष्ट्र 11, दिल्ली छह, यूपी 11, राजस्थान तीन, तेलंगाना एक, लद्दाख तीन, तमिलनाडु एक, जम्मू-कश्मीर एक, पंजाब एक और कर्नाटक में चार कोरोनावायरस संक्रमित मरीज पाए गए हैं.

वहीं भारत सरकार ने अब तक कोरोनावायरस प्रभावित देशों से 948 यात्रियों को निकाला है. इनमें से 900 भारतीय हैं, जबकि 48 दूसरे देशों के नागरिक हैं. इन देशों में मालदीव, म्यांमार, बांग्लादेश, चीन, अमेरिका, मैडागास्कर, श्रीलंका, नेपाल, दक्षिण अफ्रीका और पेरू शामिल हैं. बतादें कि दुनियाभर के 107 देशों में 1,17,339 मामलों की पुष्टि हुई है. जिसमें 4,251 लोगों की मौत हो गई है.

कनाडा से लखनऊ आई महिला डॉक्टर में कोरोनावायरस के संक्रमण के लक्षण मिले हैं. उन्हें केजीएमयू में गहन चिकित्सा कक्ष में रखा गया है. उधर भारत ने 31 मार्च तक सभी विदेशी शिप की एंट्री बैन कर दी है। इसी के तहत मंगलौर में एक यूरोपियन कंपनी का जहाज वापस भेज दिया गया। रविवार को यूरोपियन कंपनी एमएससी क्रूज की शिप लिरिका को मंगलौर तट पर एंट्री नहीं दी गई.

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने स्वास्थ्य और शोध विभाग के साथ मिलकर संक्रमण की जांच के लिए देशभर में 52 लैब बनाई हैं. सरकार द्वारा लगाई वीजा पाबंदियों के चलते 15 अप्रैल तक कोई भी विदेशी खिलाड़ी आईपीएल के लिए उपलब्ध नहीं रहेगा. ऐसे में अब आईपीएल पर भी रोक लगाई जा सकती है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *